रायपुर. राजधानी रायपुर के डब्ल्यूआरएस कॉलोनी स्थित केंद्रीय विद्यालय में 5वीं कक्षा के 3 छात्रों ने 6 साल की बच्ची से अश्लील हरकत की। बच्ची को छात्र टॉयलेट में ले गए और उसका यौन उत्पीड़न किया। घटना की जानकारी दो दिन बाद सामने आई तो गुरुवार को परिजनों ने हंगामा कर दिया। उन्होंने स्कूल का घेराव कर दिया और प्रबंधन पर मामले को दबाने का आरोप लगाया है। फिलहाल परिजन खमतराई थाने पहुंचे और वहां शिकायत दर्ज कराई है।

बच्ची के कपड़े उतरवाए, उस पर डाला पानी, टीचर ने देखा तो पहनाए कपड़े

  1. केद्रीय विद्यालय डब्ल्यूआरएस कॉलोनी रायपुर
    जानकारी के मुताबिक, घटना दो दिन पुरानी है। लंच के दौरान कक्षा एक में पढ़ने वाली बच्ची को कक्षा 5वीं में कक्षा के तीन छात्र बहलाकर अपने साथ टॉयलेट में ले गए। वहां उन्होंने बच्ची के कपड़े उतार दिए और उससे अश्लील हरकत की। इसके बाद बच्ची पर पानी डाल दिया। स्कूल टीचर ने देखा तो बच्ची को कपड़े पहनाए। परिजनों का आरोप है कि इसके बावजूद टीचर ने आरोपी छात्रों पर कोई कार्रवाई नहीं की। बल्कि बच्ची को ही डराकर चुप करा दिया।
  2. दो दिन बाद डरी हुई बच्ची ने परिजनों को बताया

    परिजनों का आरोप है कि टीचर की बात और घटनाक्रम से डरकर बच्ची दो दिनों तक चुप रही। इसके बाद उसने अपने माता-पिता को सारी बात बताई। परिजन इसकी शिकायत लेकर स्कूल पहुंचे तो प्रबंधन ने पहले ही एफआईआर दर्ज कराने की बात कही। जब परिजनों ने एफआईआर की कॉपी मांगी तब प्राचार्य गोलमोल जवाब देने लगे। इसके बाद परिजनों ने थाने पहुंचकर शिकायत दी है।
  3. प्राचार्य बोले- आंतरिक जांच करवाई जा रही है, कार्रवाई करेंगे

    स्कूल प्राचार्य
    स्कूल के प्राचार्य बीएस अहिरे ने बताया कि मामले की जानकारी एक टीचर ने दी थी। इसके बाद आरोपी बच्चों के परिजनों को बुलाया गया और उन्हें पूरी बात बताई गई। हालांकि बच्चों के माता-पिता ने गलती मानने से इनकार कर दिया और झगड़ने लगे। प्राचार्य अहिरे ने कहा कि हमने एफआईआर दर्ज कराई है। प्रबंधन की ओर से भी आंतरिक जांच कराई जा रही है। आरोपी बच्चों की टीसी देकर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई करेंगे।
  4. परिजनों से शिकायत ली है, विधिक राय लेने के बाद दर्ज करेंगे एफआईआर

    मामले की शिकायत परिजनों ने की है। यह बहुत छोटे बच्चों का मामला है। हमने शिकायत ले ली है, लेकिन मामले को लेकर विधिक राय लेंगे। साथ ही स्कूल प्रबंधन से भी रिपोर्ट मांगी है। उनकी रिपोर्ट आने के बाद ही विधि अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
Share To:

Post A Comment: