अबैध रूप से संचालित तीन नर्सिंग होम सील

एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने की कार्यवाई

मरीज भर्ती, नही मिले डॉक्टर

मल्लावां (हरदोई)।

जिलाधिकारी के निर्देश परएसडीएम बिलग्राम और स्वास्थ्य विभाग की सयुंक्त छापेमारी में बिना पंजीकरण चल रहे तीन नर्सिंग होम सील किए गए। तीन लोगों को हिरासत में लिया गया।

 शनिवार के दिन नगर में अबैध रूप से संचालित प्राइवेट हॉस्पिटलों की एसडीएम सतेंद्र सिंह, सीओ आर एस कुशवाह व सीएचसी अधीक्षक डॉ अरविंद मिश्रा और डॉक्टर संजय सिंह पुलिस बल के साथ राघौपुर रोड स्थित न्यू बालाजी हॉस्पिटल पहुंचे। यहां तीन महिलाएं भर्ती मिली, लेकिन कोई डॉक्टर मौके पर नही मिला। अस्पताल बिना पंजीकरण के संचालित था। इसके बाद टीम ने धर्मशाला के पास बालाजी नर्सिंग होम में छापा मारा। यहाँ पर दस महिलाओं का इलाज चल रहा था,लेकिन कोई चिकित्सक मौजूद नहीं था। एसडीएम ने दोनों अस्पतालों से एक एक स्टाफ को हिरासत में लेने के निर्देश दिए। दोनों अस्पतालों में भर्ती मरीजों को एम्बुलेंस से सीएचसी भेजा गया। चुंगी 2 स्थित विष्णु नर्सिंग होम में भी भारी अनिमितायें मिली। इसके बाद टीम तुलसी हॉस्पिटल एवं मैटरनिटी सेंटर पहुंची। यहां टीम के पहुंचे से पहले ही संचालक ताला लगाकर फरार हो गए। टीम ने तुलसी हॉस्पिटल भगवंतनगर की जाँच की। यहां पर न तो मरीज मिला और न ही कोई चिकित्सक। अस्पताल का पंजीकरण नही मिला। यहां से 1 स्टाप को हिरासत मि लिया गया। कस्बे के मिट्ठू बाबा के निकट संचालित प्रिया क्लीनिक ( डा. यादव क्लीनिक) पर छापा मारा। शटर बैंड होने के कारण टीम पिछले दरबाजे से अस्पताल के अंदर दाखिल हुई। यहाँ पंजीकरण सिर्फ ओपीडी के लिए पाया गया। अस्पताल संचालक को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए। वहीं विष्णु नर्सिंग होम में भर्ती मरीज अधिकारियों को देख कर भाग गए यह भी कोई मरीज नहीं मिला। एसडीएम सतेंद्र सिंह ने बताया कि अबैध रूप से संचालित नर्सिग होमों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।बालाजी हॉस्पिटल, न्यू बालाजी हॉस्पिटल और विष्णु हॉस्पिटल को सील किया गया है। तीनों अस्पतालों से एक एक स्टाफ को हिरासत में ले लिया गया है जिनसे पूछताछ चल रही है ।

Share To:

Post A Comment: