जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे  तहसील कोरांव में सम्पूर्ण समाधान दिवस हुआ सम्पन्न

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

प्रयागराज कोरांव  तहसील पर आने वाली छोटी-छोटी शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित करने हेतु जिलाधिकारी ने दिये सख्त निर्देश

सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कर पात्र व्यक्तियों को लाभ पहुंचाया जाय जिलाधिकारी प्रयागराज

जमीन से जुड़ी शिकायते लेखपाल एवं कानूनगों  स्थलीय निरीक्षण कर त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चित करें जिलाधिकारी प्रयागराज

जनसामान्य से जुडी मूलभूत सुविधाओं की शिकायतों के निस्तारण में शिथिलता क्षम्य नही जिलाधिकारी प्रयागराज

20 अगस्त 2019 प्रयागराज

 भानुचन्द्र गोस्वामी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस कोरांव में जनसमान्य लोगों की शिकायतों को सुना तथा सम्बन्धित अधिकारियों को समयबद्ध रूप से निस्तारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर प्रकरण स्थल पर जाकर उसे तुरन्त निस्तारित करने की कार्यवाही की जाय। उन्होंने कहा कि शिकायककर्ता की शिकायतों को हल्के में न लेकर उसे गम्भीरता से उसकी शिकायत को सुने तथा शिकायत के निस्तारण भी सुनिश्चित करें।  उन्होंने तहसील कोरांव के अधिकारियों को निर्देशित किया कि अगले सप्ताह तक छोटे प्रकरणों को सूचीबद्ध करते हुए उसे निस्तारित कर दिये जाये। इसके साथ ही सम्पूर्ण समाधान दिवस पर प्राप्त हो रही शिकायतों को एक टाइमलाइन में निस्तारित करने की कार्यवाही की जाय। किसी भी प्रकरण को बेवजह लम्बित न रखा जाय, इस बात का विशेष ध्यान दिया जाय।जिलाधिकारी ने सरकार द्वारा चलायी जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी समाज के अन्तिम पात्र व्यक्ति तक पहुंचे, यह सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि विभागों में संचालित योजनाओं का कैम्प लगाकर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाय तथा पात्र व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाय। उन्होंने कहा कि लोगो को योजनाओं के बारे में व्यापक रूप से समझ सके, इसके लिए सरल भाषा का प्रयोग किया जाय। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने में लापरवाही करने या शिथिलता बरतने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होने लाभार्थियों के नाम आवास की सूची मे होने पर भी आवास न मिलने पर सभी बीएलओ को तलब करते हुए उनसे रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये है।

      जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकतर शिकायते लेखपाल एवं कानूनगों के स्तर की आती है। उन्होने लेखपाल और कानूनगों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि उनसे सम्बन्धित प्रकरणों को जमीनी स्तर पर जाकर निष्पक्ष जांच करते हुए प्रकरणों को निस्तारित किया जाय। प्रकरणो को बेवजह लम्बित रखने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रकरण के निस्तारण में फर्जी रिपोर्ट लगाकर प्रकरण अगर निस्तारित किये गये तो सीधे बर्खास्त किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा दिये निर्देशों का अनुपालन करे तथा लोगो को समस्याओं को निस्तारित करें।  जिलाधिकारी ने इस बात भी जोर दिया कि प्रकरण के निस्तारण करने वाले का पूरा नाम, पद और हस्ताक्षर अवश्य होना चाहिए, इस बात का ख्याल रखा जाय।जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस पर आयी विद्युत की शिकायतों पर विद्युत विभाग के अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देशित किया कि विद्युत की शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर समाधान किया जाय। बिजली विभाग के अधिकारियों के द्वारा अगर मौके पर कार्य नही पाया गता तो सीधे चार्जशीट लगा दी जायेगी। उन्होंने कहा कि लोगो से जुड़ी मूलभूत सुविधाओं की शिकायतों को सम्बन्धित विभाग के अधिकारी पूरी गम्भीरता से ले, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही किसी भी स्तर पर क्षम्य नही होगी। इसी तरह उन्होंने सड़कों पर पशुओं के आवागमन पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की और निर्देशित किया कि सड़कों पर पशुओं का आवागमन न हो यह सुनिश्चित किया जाय। तहसील समाधान दिवस पर कुल 460 आवेदन पत्र आये, जिसपर की जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि एक सप्ताह के अन्दर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित करें। तहसील समाधान दिवस पर नवांगतुक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  सत्यार्थ अनिरूद्ध पंकज, मुख्य विकास अधिकारी-अरविंद सिंह, एस0डी0एम0 तथा सम्बन्धित सभी जिला स्तर के अधिकारीगण मौजूद रहे ।


Share To:

Post A Comment: