जय जवान जय किसान के नारे को लगा रहे अधिकारी कर्मचारी  ठेकेदार पलीता भावांतर की राशि का हो रहा गमन

KKK 24X7.NEWS /ढीमरखेडा 

जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा जिला कटनी का मामला भावंतर की राशि प्रदान करने में कर रहे ठेकेदार अधिकारी टालमटोल

 ग्राम करही जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा बलराम पटेल ने जिला कलेक्टर को दी शिकायत सुनाई अपनी व्यथा।

 भावंतर योजना के अंतर्गत 46 कुंटल 82 किलो बेचा गल्ला जिसमें 14 कुंटल का ही मिला पैसा 15 महीने से मंडी और कलेक्ट्रेट के काट रहे चक्कर। अधिकारियों द्वारा संतोष जनक नहीं दी जा रही जानकारी। पच्चीस मर्तबा से ज्यादा मंडी और कलेक्ट्रेट जा चुके हैं पटेल। ठेकेदार  बाल मुकुंद  दीपाली भावंतर की राशि की जानकारी देने से कर रहे टालमटोल। ₹ 75000 की राशि का नहीं चल रहा पता किसान ने कलेक्टर से की लिखित शिकायत। कलेक्टर और मंडी सचिव भी नहीं दे रहे जानकारी पान उमरिया शिविर में भी की थी शिकायत । बलराम पटेल ग्राम करही जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा ने लगाई जल्द निराकरण की गुहार।

 ऐसी स्थिति में सवाल तो बनता है ???

(1)क्या सरकार किसानों की आवश्यकताओं का नहीं रख पा रही है ध्यान?

(2) क्या महज किसानों को रिझाने के लिए  बनती है योजनाएं?

(3) क्या यह योजना भी एक चुनावी घोषणा थी?

(4) क्यों बनती है ऐसी योजनाएं जिसे सुचारू ढंग से नहीं चलाया जा सकता या फिर दोषी कौन?

(5) किसानों की आत्महत्या का एक यह भी कारण हो सकता है?

(6) किसानों की राशि सही समय पर ना मिलने का दोषी कौन ठेकेदार अधिकारी कर्मचारी या सरकार?

Share To:

Post A Comment: