हर-हर महादेव के जयघोषो से गूंज उठा रीठी 

  हर-हर महादेव के गूंजते नारे, बैड-बाजो की धुन पर थिरकते भक्त, सिर पर पार्थिव शिवलिंगो का कोपर रखकर चलती महिलाए। ये सब नजारे थे    सावन मास के अंतिम  सोमवार को रीठी के श्रीराम जानकी मंदिर प्रांगण में विगत 3 दिनों से चल रहे पार्थिव शिवलिंग निर्माण एवं महारूद्राभिषेक के। यहा  पूरे उत्साह और धूमधाम के साथ तीन दिवसीय इस आयोजन का  सावन के अंतिम सोमवार समापन हो गया। सावन के अंतिम सोमवार के शुभ अवसर पर  महिलाओं और पुरुषों की भीड़ ने एक ही दिन में डेढ़ लाख से अधिक शिवलिंगो का निर्माण कर डाला । बताया गया कि ढाई लाख से अधिक शिवलिंग 3 दिनों में बनाए गए लगातार दूसरे वर्ष रीठी  वासियों के सहयोग से आयोजित इस धार्मिक कार्यक्रम  में नागरिकों में भारी उत्साह देखा गया । सुबह से ही महिलाएं, पुरूष व बच्चे ओम नमः शिवाय और मंगल गीत गाते पार्थिव शिवलिंग का निर्माण करने मे जुटे रहे। वही दोपहर बाद रामजानकी मंदिर के पुजारी पंडित रामकेत शास्त्री द्वारा मंत्रोच्चार के साथ पार्थिव शिवलिंग निर्माण का महा रुद्राभिषेक विधि विधान से संपन्न कराया गया । इसके बाद ढोल-नगाड़ो की धुन पर नाचते गाते हुए महिलाओं द्वारा अपने-अपने सिर पर पार्थिव शिवलिंगो का कोपर रखकर नगर भ्रमण करते हुए देवलिया जलाशय पहुंची जहां पर पूजन के साथ शिवलिंगो का विसर्जन किया गया। इस अवसर पर आरएस तिवारी, गणेश तिवारी, संतोष पटेल, गुलाब सिंह, प्रभु दुबे, तुलसीराम हरदा, कोमलछीर सागर, कृष्ण कुमार गुप्ता, मुकेश कंदेले, बिन्जन श्रीवास, ऋषभ पाल, संतोष सेन सहित सैकड़ो की संख्या मे महादेव के भक्तो की      उपस्थिति रही। आयोजित  कार्यक्रम के अंतिम दिवस रामजानकी मंदिर मे अखंड मानस पाठ प्रारंभ हुआ। कार्यक्रम संयोजक तिवारी ने बताया कि आज  मंगलवार को दस बजे अखण्ड मानस पाठ का  समापन होगा इसके पश्चात  हवन भंडारे के साथ चार दिवसीय इस धार्मिक  आयोजन का समापन किया जाएगा। आयोजन समिति ने सभी धर्मप्रेमियो से इस आयोजन के अंतिम दिवस मंदिर पहुचकर प्रसाद ग्रहण करने का आग्रह किया है।



Share To:

Post A Comment: