जिलाधिकारी की अध्यक्षता में 71 बिन्दुओं के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक सम्पन्न

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

प्रयागराज कार्य में रूचि न लेने के कारण डी0पी0आर0ओ0, ए0डी0पी0आर0ओ0 सहित सभी ए0डी0ओ0 पंचायत का वेतन रोकने के जिलाधिकारी ने दिये निर्देश

15 सितम्बर से ब्लाकस्तर पर कैम्प लगाकर पात्र व्यक्तियों को वयोवृद्ध पेंशन योजना में उपलब्ध कराया जायेगा उपचार एवं उपकरण

02 सितम्बर, 2019 प्रयागराज

जिलाधिकारी, प्रयागराज  भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में 71 बिन्दुओं के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई, जिसमें मुख्य विकास अधिकारी अरविंद सिंह, डी0एस0टी0ओ0- जितेन्द्र कुमार पी0डी0डी0आर0डी0ए0-के0के0 सिंह सहित सभी जनपदस्तरीय अधिकारीगण मौजूद थे। जिलाधिकारी ने पंचायती राज विभाग की पी0एस0एम0एस0आनलाइन ट्रेनिंग की समीक्षा करते हुए कार्यों में रूचि न लेने के कारण कड़ी नाराजगी व्यक्त करने के साथ-साथ डी0पी0आर0ओ0, ए0डी0पी0आर0ओ0 सहित सभी ए0डी0ओ0 पंचायत का वेतन रोकने के निर्देश दिये। उन्होंने ग्राम  पंचायतों में साफ-सफाई तथा नालियों की साफ-सफाई के साथ छिड़काव आदि करने के निर्देश देते हुए कहा कि जिन ग्राम पंचायतों में प्रगति अच्छी नही पायी जायेगी, वे कठोर कार्यवाही के लिए तैयार रहे। उन्होंने बताया कि 15 से 20 सितम्बर तक सारे पूर्ण कार्यों का सत्यापन करे तथा अभी जो भी अधूरे कार्य है, वे सितम्बर माह में पूर्ण करा लिये जाय। समाज कल्याण विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने सभी उपजिलाधिकारी तथा खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि छात्रवृत्ति का सही सत्यापन कराकर उसकी सूची तैयार करायी जाय। उन्होंने सामूहिक विवाह योजना के लिए सभी बीडीओ को निर्देशित किया कि सत्यापन कराके सूची तैयार करे। उन्होंने वृद्ध, विधवा, पेंशन की प्रगति मानक के अनुरूप न होने पर नाराजगी व्यक्त की तथा ए0डी0ओ0समाज कल्याण को निर्देशित किया है कि सूची के अनुसार सत्यापन सुनिश्चित करे तथा कोई पात्र लाभार्थी इस योजना से वंचित न रह जाय। वयोवृद्ध पेंशन योजना में जो भी व्यक्ति वृद्ध है, उनको पेंशन के साथ-साथ उपचार एवं उपकरण भी उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिया कि इसके लिए 15 सितम्बर से ब्लाकस्तर पर कैम्प लगाये जायेंगे। इस योजना में एक भी पात्र लाभार्थी किसी भी दशा में वंचित न रह जाय। इस माह में अधिकतम पात्र व्यक्तियों को आच्छादित करना है। इसी प्रकार निराश्रित विधवा पेंशन, दिव्यांगजन सशक्तीकरण में सभी ब्लाकों पर कैम्प लगाकर सर्टिफिकेट बनवाया जायेगा तथा इसमें किसी भी अधिकारी की लापरवाही पर जवाबदेही तय की जायेगी। इसी क्रम में उन्होंने महिला हेल्प लाइन की समीक्षा का रिसपांस डी0पी0ओ0 से लिया। आंगनवाड़ी केन्द्रों की स्थापना एवं निर्माण की समीक्षा करते हुए बताया कि जिस भी आंगनवाड़ी केन्द्रों पर जो भी कमियां है, उसकी सूची सीडीओ के माध्यम से सम्बन्धित अधिकारियों को भेज दीजिए। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए पी0डी0डी0आर0डी0ए0 को निर्देशित किया कि अभी तक जो भी आवास अपूर्ण है  वे सितम्बर माह तक पूर्ण कराकर उसके फोटोग्राफ्स के साथ उपलब्ध कराये। फोटोग्राफ्स न उपलब्ध कराने पर ग्राम सभा के सचिव पर कार्यवाही की जायेगी। इसी क्रम में एन0आर0एल0एम0 की समीक्षा की तथा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में जो परियोजनाएं चल रही है, उसकी क्या स्थिति है की जानकारी ली, जिसपर अधिशाषी अभियन्ता द्वारा बताया गया कि तीन परियोजनाएं चालू है, जिसमें 80 प्रतिशत काम पूर्ण कर लिया गया है। ग्रामीण पेयजल की समीक्षा करते हुए यूपी एग्रो द्वारा कितने हैण्डपम्प लगे, तथा ए0डी0पी0आर0ओ0 से पूछा कि कितने हैण्डपम्पों की रि-वोरिंग हुआ है, की जानकारी ली तथा नीर निर्मल परियोजना में जो भी बोरिंग हुआ है, वे पूरी क्षमता के साथ चल रहे है कि नही, इसको चेक करने के निर्देश दिये तथा जहां पर भी स्थान नहीं मिल पाया है, उसको डी0डी0ओ0 को फटकार लगाते हुए कहा कि एस0डी0एम0 और मुख्य राजस्व अधिकारी से मिलकर स्थान चिहिन्त करा लें, इसी क्रम में जिलाधिकारी ने खाद्य व रसद विभाग, नई सड़के, सड़कों की मरम्मत आदि की जानकारी ली। सेतुओं के निर्माण की प्रगति, नमामि गंगे में साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट की जानकारी ली तथा बताया कि एक माॅडल बनाकर पहले चेक कर ले, यदि सफल हुआ तो आगे और बनाइयें। बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुए निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण, एम0डी0एम0 की जानकारी ली तथा बताया कि जिन विद्यालयों में रसोई गैस आदि चोरी हुए है, उसकी प्राथमिकी सम्बन्धित थानों पर दर्ज कराकर दूसरा गैस चूल्हा उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए पूछा कि के0सी0सी0 में क्या हो रहा है, उसके बाद उन्होंने ग्राम वाइज सूची तथा बैंकों द्वारा क्या किया जा रहा है, कि जानकारी ली तथा उन्होंने निर्देशित किया कि 2 दिन के अन्दर पूरे गांवों को मैच करके बतायें कि किस गांव के पास कौन सा बैंक है तथा इस योजना से किसी भी पात्र किसान वंचित न रह जाय। विद्युत विभाग, आईसीडीएस आदि की समीक्षा की तथा बताया कि सरकार द्वारा जो भी योजनाएं चलायी जा रही है, उसका पात्र व्यक्तियों को शत-प्रतिशत लाभ मिले, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही कतई क्षम्य नही होगी। 



Share To:

Post A Comment: