मण्डलायुक्त ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों एवं बाढ़ राहत शिविरों का किया निरीक्षण

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

मंडलायुक्त ने  प्रयागराज अधिकारियों को  बढ़ते हुए जलस्तर पर सतत नजर रखते हुए, व्यापक इंतेजाम करने पर दिया जोर बाढ़ राहत शिविरो मे रहने वाले लोगो को मूलभूत सुविधाये पर्याप्त मात्रा में करायी जाय उपलब्ध बाढ़ राहत शिविरों का माहौल खुशनुमा बनाने पर कमिश्नर ने दिया जोर बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रो पर प्रशासन है पूरी तरह से सतर्क, बाढ़ पीड़ितों को सुरक्षित रूप से बाढ़ राहत शिविरों में पहुंचाया जाय – मण्डलायुक्त प्रयागराज।

19 सितम्बर 2019 प्रयागराज।

मण्डलायुक्त प्रयागराज डॉ. आशीष कुमार गोयल ने आज जनपद प्रयागराज मे बढ़ते जलस्तर से प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान शास्त्री पुल, नई झूंसी के बदरा सुनोटी, नैनी पुल, बख्शी बांध के साथ राहत शिविरों का निरीक्षण कर जलस्तर को देखा तथा व्यवस्थाओं के सम्बन्ध मे जानकारी लेते हुए सम्बन्धित अधिकारियो को व्यापक निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बाढ़ राहत शिविर मे रहने वाले लोगो को पर्याप्त मात्रा में मूलभूत सुविधायें दी जाय, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही या शिथिलता न बरती जाय। इसके साथ ही उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया है कि बाढ़ राहत शिविरों का माहौल खुशनुमा बनाये जाने का प्रयास किया जाय, जिससे राहत शिविर मे रहने वाले लोगो के बीच उदासीपन का माहौल न व्याप्त हो।

मण्डलायुक्त आज सिटी मजिस्ट्रेट  रजनीश मिश्र के साथ बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का निरीक्षण में निकले। उन्होंने सर्वप्रथम शास्त्री पुल पर खड़े होकर बढ़ते हुए जलस्तर को देखा। मण्डलायुक्त काफी देर तक शास्त्री पुल से जलस्तर को देखते रहे तथा उसके बाद सिटी मजिस्ट्रेट के साथ नई झूंसी के बदरा सुनोटी क्षेत्र में गये, जहां पर जलस्तर बढ़ने से जलभराव की स्थिति को देखा। उन्होंने उपस्थित लोगो से बढ़े हुए जल स्तर से होने वाली परेशानियों के बारे मे जाना तथा विश्वास दिलाया कि प्रशासन द्वारा लोगो की पूरी मदद की जा रही है। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में जल स्तर बढने के कारण मकानो तथा बिजली के खम्भो पर पानी आ गया हो तो वहां पर तत्काल बिजली काट दी जाय तथा फंसे लोगो वहां से निकालकर बाढ़ राहत शिविर में सुरक्षित पहुंचाया जाय। इसके बाद मण्डलायुक्त नगर पंचायत झूंसी में बने बाढ़ राहत शिविर का निरीक्षण करने पहुंचे। जहां पर उन्होंने व्यवस्थाओं को और दुरूस्त करने पर जोर दिया तथा स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि बाढ़ राहत शिविर में आने वाले लोगो को किसी प्रकार की असुविधा न हो इस बात का ध्यान रखा जाय।

मण्डलायुक्त, बदरा सुनोटी से निकलकर संगम क्षेत्र की तरफ गये, जहां पर उन्होंने बढ़ते हुए जलस्तर के कारण संगम क्षेत्र में जलभराव की स्थिति को देखा। संगम क्षेत्र से निकलकर मण्डलायुक्त महोदय नये नैनी पुल पहुंचे जहां पर उन्होंने नैनी की तरफ बढ़े जलस्तर को देखा। नैनी पुल से निकलकर मण्डलायुक्त महोदय बख्शी बांध पहुंचे, जहां पर बढ़ते हुए जलस्तर से जलमग्न मकानो को देखा और उपस्थित अधिकारियों से जलस्तर की जानकारी ली। इसके साथ ही उन्होंने बाढ़ राहत के लिए किये जा रहे कार्यों को भी जाना। उन्होंने बाढ़ राहत के लिए किये जा रहें कार्यो की सराहना की और कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में फंसे लोगो को पूरी तत्परता के साथ सुरक्षित स्थानो तथा बाढ़ राहत शिविरो तक पहुंचाने का कार्य किया जाय।

मण्डलायुक्त बख्सी बांध से निकलकर सेंट जोसेफ गर्ल्स कॉलेज में बने बाढ़ राहत शिविर का निरीक्षण करने पहुंचे। जहां पर उन्होंने उपस्थिति सम्बन्धित अधिकारियों से बाढ़ राहत शिविर में उपस्थित लोगो की जानकारी ली। इसके बाद मण्डलायुक्त बाढ़ राहत शिविर के जिन कमरों में बाढ़ पीडित लोगो को रखा गया है वहां पर गये और उन्होंने एक-एक कर सबका हाल-चाल पूछा। उन्होंने उनके खान-पान से लेकर अन्य मूलभूत सुविधाओं की पड़ताल भी की। लोगो के द्वारा मण्डलायुक्त को बताया गया कि उनका अच्छे ध्यान रखा जा रहा है तथा उन्हें नाश्ता एवं भोजन तथा पानी पर्याप्त मात्रा मे मिल रहा है। मण्डलायुक्त ने बाढ़ पीडित लोगो के लिए चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी ली गयी। जिसमें बताया गया कि बाढ़ राहत शिविर मे चिकित्सक के साथ पर्याप्त मात्रा दवायें रखी गयी है।  उन्होंने कहा कि बाढ़ राहत शिविर में रहने वाले लोगो के लिए खुशनुमा माहौल बनाया जाय।





Share To:

Post A Comment: