जिलाधिकारी की अध्यक्षता में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण तहत स्वच्छता ही सेवा का कार्यक्रम संपन्न

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

जिलाधिकारी प्रयागराज की अध्यक्षता में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत ‘‘स्वच्छता ही सेवा है’’ कार्यक्रम के सम्बन्ध में बैठक सम्पन्न

‘‘स्वच्छता ही सेवा है’’ कार्यक्रम के अन्तर्गत जागरूकता की दृष्टि से प्राथमिक माध्यमिक उच्च शिक्षण संस्थानों में संगोष्ठी रैली एवं पोस्टर प्रतियोगिता का किया जायेगा आयोजन-जिलाधिकारी, प्रयागराज

02 अक्टूबर को प्रयाग संगीत समिति मेें ‘‘स्वच्छता ही सेवा है’’ कार्यक्रम का होगा समापन

26 सितम्बर, 2019 प्रयागराज।

जिलाधिकारी, प्रयागराज श्री भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में संगम सभागार में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत ‘‘स्वच्छता ही सेवा है’’ कार्यक्रम संबंधी बैठक हुई। बैठक में ए0डी0एम0 वित्त  एम0के0 सिंह, ए0डी0एम0 प्रशासन  वी0एस0 दूबे, डी0एफ0ओ0  वाई0पी0 शुक्ला, डी0पी0आर0ओ0 रेनू श्रीवास्तव सहित जनपदीय अधिकारीगण मौजूद थे।

जिलाधिकारी ने स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत ‘‘स्वच्छता ही सेवा है’’ अभियान के बारे में बताया कि आगामी 02 अक्टूबर, 2019 को सम्पूर्ण भारत को खुले में शौच से मुक्त ओ0डी0एफ0 घोषित किए जाने की तैयारी है, जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की आगामी 150वीं जयन्ती के अवसर पर उनको सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करने का माध्यम होगा। इसके साथ ही स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण का फोकस ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबन्धन पर विशेष रूप से होगा, जिसके अन्तर्गत सम्पूर्ण स्वच्छता हेतु ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबन्धन तथा यूनिवर्सल सैनिटेशन कवरेज को सुनिश्चित किया जायेगा।

‘‘स्वच्छता ही सेवा’’ अभियान की थीम ‘अपशिष्ट प्लास्टिक प्रबन्धन’ होगी, जो दिनांक 02 अक्टूबर, 2019 तक चलाया जायेगा तथा जिसमें बड़े पैमाने पर प्लास्टिक के नगण्य प्रयोग, संग्रहीकरण एवं इसके प्रबंधन के लिए प्लास्टिक का संग्रहीकरण एवं प्रभावी तरीके से पुनर्चक्रण एवं निष्पादन की गतिविधिया संचालित की जायेगी। 01 अक्टूबर तक सम्पूर्ण प्रदेश में प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट हेतु लोगो में जागरूकता अभियान चलाने तथा इसे जनआंदोलन में परिवर्तित करके सामाजिक, राजनैतिक, कारपोरेट जगत, धार्मिक संस्थानों, शिक्षण संस्थाओं, विभिन्न कृषक संगठनों एवं पंचायती राज संस्थाओं के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार कर प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की जानकारी दी जाय। जनपद और स्थानीय निकायों द्वारा अनिवार्य रूप से स्थान चिन्हित कर 02 अक्टूबर को प्लास्टिक अपशिष्ट को एकत्र किया जा सके साथ ही एकत्रित अपशिष्ट संग्रहण केन्द्रो पर संग्रह कर प्रभावी तरीके से उसका निस्तारण किया जा सके।

‘‘स्वच्छता ही सेवा है’’ कार्यक्रम के लिए प्राथमिक माध्यमिक उच्च शिक्षण संस्थानों में संगोष्ठी रैली एवं पोस्टर प्रतियोगिता के माध्यम से लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया जाय। इस कार्यक्रम के लिए 20ग10 फिट का पैनल बनाकर हस्ताक्षर अभियान चलाया जायेगा। ये पैनल प्रमुख चैराहों पर लगाया जायेगा साथ ही नाटक के माध्यम से लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जायेगा। दशहरा मेले पर रामलीला कमेटियों की ओर से निकाली जाने वाली झांकियों में भी स्वच्छता से सम्बन्धित झांकियों को शामिल किया जायेगा। प्रमुख बाजारों में मण्डी समितियों एवं व्यापार मण्डलों के सहयोग से संगोष्ठी आयोजित कर 30 सितम्बर, 2019 को विशाल रैली निकाली जायेगी, जिसमें सभी बोर्ड के स्कूली बच्चे और विभिन्न सामाजिक संगठनों के लोग शामिल होंगे। 02 अक्टूबर को प्रयाग संगीत समिति मेें स्वच्छता ही सेवा है कार्यक्रम का समापन होगा। इसके लिए नगर निगम को नोडल विभाग बनाया गया है।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत विभागीय वेबसाइट पर आनलाइन आवेदन कराना सुनिश्चित करें-जिला प्रोबेशन अधिकारी

जिला प्रोबेशन अधिकारी, प्रयागराज पंकज कुमार मिश्र ने बताया है कि जिन लाभार्थिंयों द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत आफलाइन पत्रों को मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा खण्ड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से प्रथम श्रेणी से लेकर छः श्रेणी तक के लाभार्थिंयों द्वारा आवेदन-पत्र कार्यालय जिला प्रोबेशन अधिकारी, 09 तेजबहादुर सप्रू रोड सिविल लाइन्स में जमा किये गये आवेदन पत्रों को आॅनलाइन करने में कुछ कठिनाइयां हो रही है और उसके अभाव में आवेदन पत्र आनलान नहीं हो पा रहा है। आवेदन करने में आ रही प्रमुख कठिनाइयों में आवेदन पत्र में अंकित मो0न0 ज्यादातर लाभार्थिंयों के नहीं है। इसके अलावा आवेदन पत्र के साथ संलग्न दस्तावेज सभी आवेदन पत्रों में संलग्न नहीं है। मो0नं0 पर आवेदन पत्र रजिस्ट्रेशन नम्बर जाता है, जिसे प्राप्त करने के पश्चात आवेदन लागिन किया जाता है। रजिस्ट्रेशन नम्बर सभी लाभार्थिंयों द्वारा नहीं बताया जा रहा है। बैंक विवरण केवल माता का ले रहा है। माता की मृत्यु होने पर पिता का बैंक विवरण ले रहा है। जिन आवेदनों में माता का बैंक विवरण नही लगा है। वह आवेदन नहीं भरा जा सकता। माता का आधार कार्ड कुछ आवेदन पत्रों में नहीं लगा है। सभी आवेदकों को सूचित किया जाता है कि विभागीय वेबसाइट  पर आनलाइन आवेदन कराना सुनिश्चित करें।



Share To:

Post A Comment: