मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में स्मार्ट सिटी बोर्ड की सातवीं बैठक हुयी सम्पन्न 


KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

प्रयागराज सड़क निर्माण के विभाग सड़कों की स्थिति रिपोर्ट जिलाधिकारी 14 सितम्बर को करेंगे प्रस्तुत, जिलाधिकारी रिपोर्ट के आधार पर अभियान के रूप में सड़को को करवायें दुरूस्त 

स्मार्ट सिटी के सड़क प्लान में मूलभूत सुविधाओं के साथ-साथ ई रिक्शा, टैम्पो स्टैण्ड, पार्किंग तथा वेंडरों के लिए दिया जायेगा उपयुक्त स्थान

वाटर सप्लाई को और अपग्रेड करने के लिए टीम नागपुर के बाद अब जायेगी इन्दौर 

शहर में शौचालय के लिए उपयुक्त स्थलों की सूची 14 सितम्बर को जिलाधिकारी के समक्ष की जायेगी प्रस्तुत

कार्यों में लापरवाही एवं शिथिलता के लिए कमिश्नर ने पीएमसी की टीम को दिया नोटिस  

मण्डलायुक्त प्रयागराज डॉ. आशीष कुमार गोयल की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय के सभागार में स्मार्ट सिटी बोर्ड की सातवीं बैठक आयोजित हुयी। बैठक में जिलाधिकारी  भानुचन्द्र गोस्वामी, नगर आयुक्त डॉ. उज्जवल कुमार, उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण  टी. के. शिबू के साथ स्मार्ट सिटी बोर्ड के सदस्य उपस्थित थे।  मण्डलायुक्त ने सड़क निर्माण करने वाले विभागो यथा लोक निर्माण विभाग, प्रयागराज विकास प्राधिकरण, नगर निगम आदि के अधिकारियों सड़को को दुरूस्त करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सड़क निर्माण सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया वे अपने सड़कों का निरीक्षण करें तथा उसकी स्थिति आगामी 14 सितम्बर को उनके समक्ष प्रस्तुत करे। जिससे कि जिन सड़कों पर मरम्मत का कार्य कराया जाना है। उन सड़कों पर एक अभियान चलाकर सड़कों को दुरूस्त कर लिया जाय। मण्डलायुक्त ने स्मार्ट सिटी के कार्यों में शिथिलता एवं लापरवाही बरतने पर पीएमसी की टीम पर नाराजगी व्यक्त करते हुए नोटिस निर्गत करने के आदेश दिये।  शहर को सुव्यवस्थित करते हुए उसमे वेंडरों को भी उपयुक्त स्थान दिलाये जाने का मण्डलायुक्त ने जोर दिया और स्मार्ट सिटी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सड़को के प्लान में वेडरों का उपयुक्त स्थल चिन्हित किया जाय। उन्होंने कहा कि सड़क का प्लान में टैम्पो, ई रिक्शा स्टैण्ड, पार्किंग को भी स्थान दिया जाय। उन्होंने स्मार्ट सिटी के अधिकारियो सड़क का प्लान बनाकर उन्हें प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। इसके लिए मण्डलायुक्त ने उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण को इसकी जिम्मेदारी दी है। इसी के साथ सिविल लाइन क्षेत्र में पार्किंग की व्यवस्था सम्बन्धित गतिविधियों के लिए व्यापार मण्डल के अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श कर आगे की कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये है।  बैठक मे नाईट मार्केटिंग, स्मार्ट पब्लिक शौचालय, आईसीसीसी, स्मार्ट वाटर ड्रेनेज आदि के कार्यों की जानकारी ली। जिलाधिकारी ने बताया कि शौचालय के लिए उपयुक्त स्थल चिन्हित करने के लिए सिटी मजिस्ट्रेट एवं ए.सी.एम. को निर्देशित किया गया है, जो आगामी 14 सितम्बर को अपनी सूची उपलब्ध करायेंगे। बैठक में शहर की अण्डर ग्राउण्ड मैप बनाने पर विचार किया गया। वाटर सप्लाई और अपग्रेड करने के लिए टीम के सदस्यों को नागपुर भेजा गया था। नागपुर गयी टीम ने वहां के अनुभवों को मण्डलायुक्त के समक्ष रखे। जिस पर बैठक में विचार किया गया कि वाटर सप्लाई के लिए टीम के सदस्यो को इंदौर भेजा जाय। बैठक में अण्डर ग्राउण्ड पार्किंग की स्थिति की जानकारी ली गयी। जिसमें बताया गया कि स्थलों का चिन्हांकन कर लिया गया है। मण्डलायुक्त ने बैठक में विचार रखे कि ओपन एयर जिम सरकारी कालोनियो तथा थानो के आस-पास भी लगायी जाय।



Share To:

Post A Comment: