गंगा यमुना का बढ़ा जलस्तर नदियाँ उफान पर

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
        सुभाष चंद्र

यमुना नदी में निरंतर बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए जहां आम जनजीवन प्रभावित होने की संभावना प्रबल दिखाई दे रही है | तो वही यमुना के किनारे बसे सैकड़ों गांव में यमुना की तरी में बोई गई हजारों बीघे तिल बाजरे ऊरद व अरहर की खेती पूरी तरीके से जलमग्न हो गई है | जिसके कारण तराई में बसे गाँवो के  किसानों को यमुना में आई बाढ़ के कारण काफी लंबा नुकसान उठाना पड़ रहा है | तो वहीं यमुना में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए लोग अपने आप को अभी भी सुरक्षित महसूस नहीं कर पा रहे हैं | अगर देखा जाए तो प्रतापपुर भीलोर सेमरी मानपुर मझियारी अमिलिया जगदीशपुर बीरबल मोहिनी का पुरवा कन्जासा भीटा कैनुवा देवरिया सारीपुर पालपुर बसवार आदि दर्जनों गांव यमुना नदी के किनारे बसे होने कारण यमुना नदी में आयी बाढ़ की विभीषिका का दंश झेल रहे हैं | हजारों बीघे खेती जल मग्न होने के कारण इन गांवो के किसानों को लंबा नुकसान उठाना पड़ रहा है | वही वर्तमान समय में भी यमुना नदी का जलस्तर पूरे तेजी के साथ बढ़ रहा है | जिसके कारण यमुना के किनारे बसे गांवों में अभी स्थित और भी बिगड़ने की संभावना जताई जा रही है |




Share To:

Post A Comment: