बच्चों के लिए खेलने के स्थान पर स्कूल परिसर मैं गांव के लोग नहाने का मजा उठा रहे हैं 

        सिहोरा /जबलपुर             

KKK न्यूज़ ब्यूरो चीफ / सिहोरा तहसील के सरकारी स्कूल   शा.प्राथमिक  पिपरिया में बाउंड्री वाल नहीं होने के कारण, शिक्षा प्रशासन के आला अधिकारियों की लापरवाही देखने मिल रही है।  वहीं शिक्षा विभाग के कामकाज की पोल खुलती नजर आ रही है।  प्राथमिक विद्यालय पिपरिया में खेतों का पानी इतना तेज बह रहा है कि, स्कूल परिसर के सामने करीब एक फीट से लेकर तीन फीट गैहराई का पानी तीन दिन से स्कूल के सामने जमा हो रहा है। परिसर पर भरे हुए पानी में प्रतिदिन पहली से पांचवी के छोटे-छोटे बच्चों को स्कूल के सामने पानी से बहते  नाले को मजबूरन पार करना पड़ रहा है। जो शिक्षा विभाग की अनदेखी और लापरवाही पर एक बहुत बड़ी दुर्घटना का आमंत्रण दिया जा रहा है । वर्तमान में एक तरफ स्कूली बच्चों को अपने आप को नाले के बहते  पानी मैं पार कर खतरा मोल लेना पढ़ रहा है । और सभी बच्चे शिक्षा के मंदिर में बैठकर शान्ति से शिक्षा प्राप्त कर रहे होते हैं। तो दूसरी तरफ पिपरिया गांव के लोग कपड़े उतारकर स्विमिंग फूल की तरह नहाने का आनंद उठा रहे हैं । लोगों ने बताया कि ऐसे कई स्कूल है। जहां स्कूली  बच्चे स्वातंत्र्य खेल नहीं पा रहे है। बच्चों की सुरक्षा को लेकर बाउंड्री वाल नहीं बनाया गया है । शिक्षा प्रशासन के द्वारा गांव के छोटे-छोटे सरकारी स्कूलों पर सौतेला व्यवहार कर ग्रामीणों  के सरकारी स्कूलों  को आला अधिकारियों ने मजाक बना लिया है । जो स्पष्ट ग्रामीण क्षेत्र मैं देखने मिल रहा है।




Share To:

Post A Comment: