उमरियापान के वन विभाग डिपो के सामने कच्ची शराब पीकर पति-पत्नी दोनों ने मचाया उत्पाद

वन विभाग के रेंजर ने भी माना डिपों के सामने कच्ची शराब बनाकर बेचीं वा पिलाई जाती हैं।

    (सोनू त्रिपाठी रिपोर्टर)


kkkन्यूज रिपोर्टर उमरियापान :- सोमवार सुबह 6:00 बजे ग्रामीणों ने देखा कि वन विभाग डिपो के सामने पति पत्नी कच्ची शराब पीकर बेसुध होकर रोड पर पडे हैं । जिसकी सुचना सरपंच को दी गई। वहीं ग्रामीणों ने यह भी बताया कि यहां पर कच्ची शराब बनाई व बेची जा रही है। पुलिस को इसकी सूचना भी है पर पुलिस आज तक इस पर कोई ठोस कार्यवाही करने में रुचि नहीं दिखा रही है । जिसका नतीजा ही है कि आए दिन शराब पीकर ऐसे ही रोड पर नजारे देखे जा सकते है। सरपंच पुत्र सतीश (बग्गा) चौरसिया ने जानकारी देते हुए बताया है कि हमारी पंचायत द्वारा कई बार यहां साफ सफाई करवाई गई है और पुलिस को सूचना भी दी गई है कि यहां कच्ची शराब बनाई व भेजी जा रही है परंतु थाना प्रभारी की लचर व्यवस्था के कारण आज दिनांक तक कोई कार्यवाही नहीं की गई । जब थाना प्रभारी को इसकी सूचना दी गई तो उन्हें कह दिया की हम नहीं आ सकते 100 नंबर डायल करें।

*इनका कहना है*
*रेंजर "हुकुम सिंह ठाकुर"*
यहां मोहल्ले वाले रहते हैं उन्हीं के द्वारा कच्ची शराब बनाई व बेचीं जा रही है। और जिस का यह नतीजा है कि आए दिन कच्ची शराब पीकर कहीं गेट में तो कहीं रोड में पड़े रहते हैं ,आदमी वही हमारे बगल में महुआ की दुश्वार आती है। हमारे चौकीदार ने यह भी कह दिया है कि सर बदबू से जीना दुश्वार है इसलिए मैं यहां रात में ड्यूटी नहीं करूंगा ।

*कांग्रेस ब्लॉक सचिव ढीमरखेड़ा*
*मनोज (दम्मी)चौरसिया*
 मेरे द्वारा कई बार एसपी व कलेक्टर को पत्र द्वारा थाना प्रभारी की इस लचर व्यवस्था के बारे में कई बार अवगत कराया जा चुका है कि आज तक थाना प्रभारी ने कोई कठोर कदम नहीं उठाए हैं मैं अब इस बारे में वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखकर इस पर कार्यवाही करवाऊंगा।

*कांग्रेस नगर अध्यक्ष उमरियापान*
*कपिल चौरसिया*
 इसकी सूचना कई बार हमें मिली है और हमने थाना प्रभारी को भी इसके बारे में बताया है पर ऐसा लगता है की पुलिस का इन्हें खुला संरक्षण है इसीलिए तो जंगल डिपो के सामने ऐसी स्थिति निर्मित हुई है मेरा एसपी महोदय से अनुरोध है की ऐसी अवैध महुआ शराब बनाने वालों पर कठोर कार्यवाही हुए । जेल भेज देना चहिये। और नहीं तो आने वाले समय में छोटे-छोटे बच्चे भी इसके आदि हो जाएंगे जिसके जवाब दे हम उमरिया पान पुलिस को समझेंगे।


Share To:

Post A Comment: