स्वच्छता ईश्वर भक्ति का दूसरा रूप 

KKK न्यूज़ रिपोर्टर
          नैनी
     सुभाष चंद्र

प्रयागराज नैनी स्थित सब्जीमंडी मोहल्ले में आज समाजसेवी सरदार  पतविंदर सिंह अपने युवा सहयोगी के साथ स्वच्छता अभियान कई घंटे श्रमदान करते हुए मोहल्ले को सुंदर. स्वच्छ बनाकर मोहल्ले वासियों को मोहल्ला सुपुर्द किया उदाहरण प्रस्तुत करते हुए कहां की स्वच्छता ही स्वास्थ्य की पहचान है जिसमें मुख्य रूप फिजा खान मिस इंडिया अर्थ दिवा 2019 से उपस्थित रही उन्होंने कहा कि साफ-सफाई ईश्वर भक्ति के बराबर है  स्वच्छता संबंधित शिक्षा आवश्यक है कहते हैं जिस ने ठान लिया जीत उसी की है और उसी जीत को हमने हासिल कियाl समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि स्वच्छता की कमी कारण सबसे अधिक हानि छोटे बच्चों को होती है डायरिया कुपोषण बच्चों की अकाल मृत्यु के दो प्रमुख कारण हैं 1 वर्ष वर्ष में गंदगी के कारण लगभग 17लाख मौतें होती हैं जिसमें 90 प्रश्न बच्चे होते हैं  सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि आप सबको स्वास्थ्य सुधार के लिए व्यक्तिगत. सामुदायिक दोनों स्तर पर स्वच्छता अभियान अनिवार्य चलाना चाहिए बच्चों की हो रही मृत्यु से बचाने का महत्वपूर्ण उपाय इससे निपटने का सबसे अच्छा तरीका स्वच्छता के माध्यम को अपनाना स्वच्छ व्यवहार और अपने आसपास की स्वच्छता के जरिए इसे रोका जा सकता है  दलजीत कौर ने कहा कि ने कहा कि स्वच्छता से कैसे हम अपने आसपास फैली संक्रमण बीमारियों पर काबू पा सकते हैं यह बदलाव सिर्फ  स्वच्छता की वजह से ही देखने को मिल सकता हैl हम सब के लिए स्वच्छता का मानक बने गंदगी का नामोनिशान ना दिखाई दे यह सबसे बड़ा कीर्तिमान होगा प्लास्टिक के दुरुपयोग को रोकने एवं प्लास्टिक कचरे से मुक्त करने में सफलता हासिल करनी हैl  अमीषी अरोड़ा ने कहा कि केवल घर और पूजा स्थान ही स्वच्छ नहीं होना चाहिए बल्कि शरीर मन और अपने आसपास की चीजों को भी साफ रखना चाहिए स्वच्छता ईश्वर की भक्ति का दूसरा रूप है सभी नागरिक एक साथ मिलकर देश को स्वच्छ बनाने का कार्य करेंl स्वच्छता अभियान में दीपक भाटिया. सत्यम होंडा. हरमन सिंह. विकास अरोरा. उमाशंकर. रामजी केसरवानी. अनिता राज. निशा अग्रहरी. आदि ने अपने विचार रखते हुए बढ़-चढ़कर श्रमदान कियाl



Share To:

Post A Comment: