सड़कों व पुलों के निर्माण कार्यों में तेजी लाई जाए केशव मौर्य

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
      उत्तर प्रदेश
    विकास कुमार

*भी अधिशासी अभियन्ताओं, सहायक अभियन्ताओं व अवर अभियन्ताओं को दिया जायेगा सी0यू0जी0 सिम*
*सभी सहायक अभियन्ताओं को दिया जायेगा 1-1 कम्प्यूटर*

*लोक निर्माण विभाग के सभी डाक बंगलों को किया जाय सुव्यवस्थित व दुरूस्त*

*लोक निर्माण विभाग की भूमि से हटवाये जाॅय अवैध कब्जे।*
*गड्ढ़ामुक्ति अभियान में लाई जाय तेजी।*

*आवंटित बजट जल्द से जल्द किया जाय खर्च।*

*ठेकेदारों के भुगतान में अनावश्यक रूप से न किया जाय विलम्ब।*

*टेण्डर प्रक्रिया पूर्ण रूप से पारदर्शी होनी चाहिए।*

*सिंगल यूज प्लास्टिक रोडों के निर्माण को गम्भीरतापूर्वक करें।*


लखनऊ, दिनांक 22 अक्टूबर 2019
उ0प्र0 के उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग सेतु निगम के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि गड्ढ़ामुक्ति अभियान में तेजी लाई जाय। उन्होने कहा कि टेण्डर प्रक्रिया पूर्ण रूप से पारदर्शी होनी चाहिए। कार्यों में हीलाहवाली या लापरवाही बरतने वाले किसी भी अधिकारी कर्मचारी को किसी भी दशा में माफ नहीं किया जायेगा।  केशव प्रसाद मौर्य आज यहाॅ लोक निर्माण विभाग स्थित तथागत सभागार में लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।
उन्होने जोर देते हुए कहा कि जो भी बजट आवंटित किया गया है उसका शीघ्र से शीघ्र सदुपयोग सुनिश्चित किया जाय। उन्होने कहा कि वह शीघ्र ही सड़कों का औचक निरीक्षण करेंगे और कहीं पर भी कार्यों में अनियमितता अथवा लापरवाही पायी गयी तो सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी।
उन्होने निर्देश दिये कि लोक निर्माण विभाग के डाक बंगलों को सुव्यवस्थित किया जाय, जहाॅ पर बाउन्ड्री वाॅल न बनी हो तो उसे बनवा दिया जाय। मौर्य ने कहा कि लोक निर्माण विभाग की सभी सड़कों पर साइनबोर्ड लगवाये जाॅय और उन पर अधिशासी अभियन्ता, सहायक अभियन्ता व अवर अभियन्ता के मोबाईल नम्बर तथा लोक निर्माण विभाग की हेल्पलाईन नम्बर अनिवार्य रूप से लिखा जाय। देवीपाटन मण्डल में अपेक्षा के अनुरूप बजट व्यय न होने पर उन्होने अप्रसन्नता जाहिर की।  मौर्य ने कहा कि 20 सितम्बर 2019 तक जो धन आवंटन किया गया है उसे 15 नवम्बर 2019 तक अनिवार्य रूप से खर्च कर लिया जाय।
 केशव प्रसाद मौर्य ने यह भी निर्देश दिये कि चाणक्य साॅफ्टवेयर के संचालन के बारे में मण्डलवार वर्कशाप करायी जाय। उन्होने कहा कि मुख्य अभियन्ता, अधीक्षण अभियन्ता, अधिशासी अभियन्ता व सहायक अभियन्ता निर्माणाधीन परियोजनाओं का लगातार निरीक्षण करते रहें।  उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि इण्टर स्टेट कनेक्टिविटी वाले मार्ग मार्च 2020 तक हर हाल में पूर्ण कर लिये जाॅय।  मौर्य ने कहा कि उनके द्वारा की गयी घोषणाओं के कार्यों को भी शीघ्र पूरा किया जाय। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अनजुड़ी बसावटों, 250 तक की आबादी के गांवों, मुख्य मार्गों से 5 किमी तक के सम्पर्क मार्गों, डाॅ0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम गौरवपथ आदि के कार्यों को शीघ्र पूरा करते हुये उपयोगिता प्रमाण पत्र भेजे जाॅय।  उपमुख्यमंत्री  ने कहा कि ब्लाक मुख्यालयों को जोड़ने वाले मार्गों के कार्य में भी तेजी लाई जाय, साथ ही उन्होने यह भी कहा कि तमात ऐसी सड़कें हैं जो राजस्व अभिलेखों में लोक निर्माण विभाग के नाम दर्ज नहीं हैं, इन्हे दर्ज कराने का काम तत्काल सुनिश्चित किया जाय।
उन्होने जोर देते हुए कहा कि हर डिवीजन में कम से कम 10 प्रतिशत प्लास्टिक रोडें बनवायी जाॅय। इससे पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन को बढ़ावा मिलेगा।
बैठक में  मौर्य ने कहा कि हर्बल मार्गों पर भी विशेष ध्यान दिया जाय, साथ ही विभाग के अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि मृतक आश्रितों के नौकरी व देयों के भुगतान आदि के मामले किसी भी दशा में लम्बित नहीं रहने चाहिए। इस अवसर पर  मौर्य ने कहा कि लोक निर्माण विभाग के सभी कार्यालयों की सफाई, रंगाई, पुताई आदि के कार्य करा लिये जाॅय। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आगणन बनाते समय रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग का भी प्लान बनायें। उन्होने कहा कि जो सड़कें कम्पलीट हों, वहाॅ के स्थानीय लोगों का उस रोड के बारे में फीड बैक लेते हुए कम से कम 1 मिनट की वीडियो क्लिप बनवाया जाय और लोक निर्माण विभाग की वेबसाईट पर अपलोड किया जाय।
 केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि रोड सेफ्टी के कार्यों को पूरी गुणवत्ता के साथ किया जाय। उन्होने कहा कि लोक निर्माण विभाग से सम्बन्धित विभिन्न न्यायालयों में चल रहे वादों पर प्रभावी ढ़ग से पैरवी की जाय। *मौर्य ने कहा कि बजट के व्ययवर्तन की शिकायत किसी भी दशा में नहीं आनी चाहिए अन्यथा सम्बधित के विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज करायी जायेगी।*
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कहीं-कहीं पर अप्रोच रोड के अभाव में पुल बाढ़ में कट जाते हैं जिससे जनता को बेहद असुविधा का सामना करना पड़ता है, इसलिये जहाॅ पर ऐसी स्थिति हो वहां मजबूत अप्रोच रोड बनवायी जांय।
बैठक में प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग  नितिन रमेश गोकर्ण ने भी महत्वपूर्ण विचार सुझाव रखे तथा लोक निर्माण विभाग के कार्यों की अद्यतन स्थिति से अवगत कराते हुए अभियन्ताओं को महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये।
बैठक में आर0सी0 बर्नवाल, प्रमुख अभियन्ता (विकास) एवं विभागाध्यक्ष, प्रमुख अभियन्ता  आर0आर0 सिंह एवं  एस0के0 सिंह, सेतु निगम के प्रबन्ध निदेशक  पी0के0 कटियार, मुख्य अभियन्ता(मु0-1)  संजय गोयल, तथा विभिन्न मण्डलों से आये मुख्य अभियन्ता, विशेष कार्याधिकारी  प्रदीप कुमार प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
Share To:

Post A Comment: