डॉ. वी. के सिंह ने दिया गुरुमंत्र ये वक़्त भी चला जायेगा

KKK न्यूज रिपोर्टर
          नैनी
      सुभाष चंद्र

मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह के अंतर्गत थीम “वोर्किंग टूगेदर टू प्रिवेंट सुसाईड” पर होगा आधारित 

प्रयागराज 9 अक्टूबर : भारत सरकार द्वारा मानसिक रोगों के प्रति जन जागरूकता करने के लिए पूरे सप्ताह विभिन्न प्रकार की गतिविधियों को किया जायेगा | 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस की थीम “वोर्किंग टूगेदर टू प्रिवेंट सुसाईड”  के रूप में मनाया जा रहा हैं साथ ही 7 से 13 तक के पूरे सप्ताह को मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है पूरे सप्ताह के दौरान लोगो को जागरूक करने के लिए कई कार्यक्रम किये जा रहे हैं | मोतीलाल नेहरू मंडलीय चिकित्सालय में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस की थीम “वोर्किंग टूगेदर टू प्रिवेंट सुसाईड”  पर क्यीज प्रतियोगिता, पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता, के साथ आत्महत्या रोकथाम पर पी.पी.टी प्रस्तुतीकरण किया गया | मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. वी.के मिश्रा नोडल एन.सी.डी सेल डॉ. वी. के सिंह मुख्य चिकित्सक अधीक्षक मोतीलाल नेहरू मंडलीय चिकित्सालय द्वारा कार्यक्रम का उदघाटन किया गया | डॉ. वी.के मिश्रा नोडल एन.सी.डी सेल ने जानकारी देते हुए समाज में आत्महत्या के कारणों पर बताते हुए समाज को सकारात्मक द्रष्टिकोण के बारे में समझाया | डॉ. वी. के सिंह मुख्य चिकित्सक अधीक्षक ने “ये वक़्त भी चला जायेगा |कार्यशाला में डॉ. राकेश कुमार पासवान व डॉ. अजय कुमार मिश्रा मनोचिकित्सक ने कार्यशाला में आत्महत्या के कारणों पर प्रकाश डालते हुए हुए बाते कि व्यक्ति मानसिक परेशियों से ग्रस्त होकर ऐसे फैसले करता हैं ऐसी स्थिति में व्यक्ति को अपने परेशानियों के बारे में मनोचिकित्सक से अवश्य संपर्क करे |  डॉ ईशान्या राज नैदानिक मनोवैज्ञानिक ने बताया कि मानसिक परेशानी के दौरान व्यक्ति को अकेले रहने से बचना चाहिए और मित्रो रिश्तेदारों के संपर्क में रहना बहुत जरुरी हैं | कार्यशाला में वर्मा नर्सिंग के छात्र, सुआट्स कालेज के छात्रो ने प्रतिभाग कर विभिन प्रकार के पोस्टर, क्यीज प्रतियोगिता किया गया |


Share To:

Post A Comment: