मानसिक रोगियों के प्रति जन जागरूकता अभियान

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह” आज से 7 से 13 अक्टूबर तक मनाया जायेगा मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह के अंतर्गत थीम “वोर्किंग टूगेदर टू प्रिवेंट सुसाईड” पर होगा आधारित 

प्रयागराज 7 अक्टूबर : भारत सरकार द्वारा मानसिक रोगों के प्रति जन जागरूकता करने के लिए पूरे सप्ताह विभिन्न प्रकार की गतिविधियों को किया जायेगा | 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस की थीम “वोर्किंग टूगेदर टू प्रिवेंट सुसाईड”  के रूप में मनाया जा रहा हैं साथ ही 7 से 13 तक के पूरे सप्ताह को मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह के रूप में मनाया जा रहा है पूरे सप्ताह के दौरान लोगो को जागरूक करने के लिए रैली, संगोष्ठी, कैम्प, शिविर,  के माध्यम से जागरूकता की जाएगी साथ ही मंद बुद्धि प्रमाणपत्र निर्गत किये जाने हेतु कैम्प का आयोजन किया जायेगा | डॉ.  ईशान्या राज नैदानिक मनोवैज्ञानिक ने बताया कि दिनांक 9 अक्टूबर को मोतीलाल नेहरू मंडलीय अस्पताल में शहर के विभिन्न नर्सिंग कॉलेजों के छात्रों के साथ क्विज प्रतियोगिता, पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता एवं मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता रैली का आयोजन किया जाएगा| दिनांक 10 अक्टूबर को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र करछना में मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता,मनोवैज्ञानिक परीक्षण व दिव्यांगता प्रमाणीकरण हेतु शिविर का आयोजन किया जाना है|  दिनांक 11 अक्टूबर को बहरिया ब्लाक मुख्यालय  मुख्यालय में वृहद मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता मानसिक परीक्षण व दिव्यांगता प्रमाणीकरण के शिविर का आयोजन किया जाएगा | 12 अक्टूबर को सेंट्रल जेल नैनी में मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता व उपचार हेतु शिविर का आयोजन किया जाएगा |    इस वर्ष  विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का विषय है "आत्महत्या रोकथाम पर मिलकर कार्य करना व प्रतिदिन 40 सेकंड की कार्यप्रणाली अपनाना" इस हेतु मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम जगह-जगह आत्महत्या रोकथाम पर जागरूकता करेंगी , आत्महत्या के सामान्य कारणों व लक्षण एवं इलाज की चर्चा करेगी और आत्महत्या रोकथाम हेतु प्रारंभिक उपायों के बारे में जनमानस को सामान्य जानकारी प्रदान करेगी| मोतीलाल नेहरु मंडलीय चिकित्सालय “काल्विन” के मनोचिकित्सक परामर्शदाता डॉ. अजय कुमार मिश्रा ने बताया कि निशुल्क मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण व उपचार हेतु एक दिवसीय शिविर का आयोजन  विश्वनाथ मनोचिकित्सा केंद्र  नैनी में किया| जिसमें करीब 40  मरीजों ने प्रतिभाग किया और 31 मरीज  विभिन्न मानसिक परेशानियों से ग्रस्त पाए गए| उनकी जांच कर  निशुल्क परामर्श व औषधि प्रदान की गई|

Share To:

Post A Comment: