पुनरीक्षित राष्ट्रीय छाया नियंत्रण खोजी अभियान

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
         प्रयागराज
       विकास कुमार

प्रयागराज पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान के तहत जनपद में मिले 159 नए मरीज |

प्रयागराज 30 अक्टूबर  : भारत एवं प्रदेश को 2025 तक देश को टी.बी मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया हैं |  इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए जनपद में टी.बी के सक्रीय रोगियों की पहचान के लिए अभियान चलाया जा रहा हैं | यह अभियान 10 अक्टूबर से अभियान शुरू होकर 23 अक्टूबर तक किया गया अभियान में स्वास्थ्यकर्मी  घर घर जाकर संभावित मरीजो की जाँच की |
जिला क्षयरोग अधिकारी डॉ. ए.के तिवारी ने बताया अभियान में 204 स्वास्थ्य टीमों ने 4.5  लाख टी.बी के संभावित मरीजों की स्क्रीनिग एवं 2831 सेम्पल की जाँच 31 डी.एम.सी पर करायी गयी | जाँच के उपरांत 159 घनात्मक टी.बी के मरीज पायें गए | जिसकी सूचना उपरांत 157 का इलाज शुरू कर लिया गया हैं, बचे हुए मरीजों को इलाज में लिया जा रहा हैं  उपचार हेतु मरीजों को भारत सरकार /उ०प्र० राज्य सरकार द्वारा दिए जाने वाले निशुल्क चिकित्सा उपचार एवं पोषण योजना के तहत उपचार के दौरान दी जाने वाली सहायता धनराशि 500 रु० प्रतिमाह से लाभान्वित कराया जायेगा |
डॉ. (मेजर) गिरजा शंकर बाजपेई मुख्य चिकित्साधिकारी प्रयागराज अभियान के समापन के उपरांत टी.बी से जुड़े हुए समस्त कर्मचरियों से समीक्षात्मक बैठक की गयी उनकी उपलब्धियों और जागरूकता को देखते हुए उनके प्रोत्साहित किया |  उन्होंने कहा कि सभी के सफल प्रयास से अभियान को पूरा किया गया हैं अब चिन्हित मरीजो को पूरा इलाज के लिए उन्हें प्रेरित करना भी हमारा काम हैं |
पब्लिक प्राइवेट मिक्स कोऑर्डिनेटर आशीष सिंह ने बताया कि इस अभियान में सबसे ज्यादा 19 मरीज शंकरगढ़ में मिले हैं उन्होंने ने बताया कि शंकरगढ़ का क्षेत्र पहाड़ी हैं  और वहां पर पत्थर का काम होता है जिसकी वजह से भी वहां पर ज्यादा मरीज पाए जाते हैं |    
Share To:

Post A Comment: