नवरात्र के महानवमी पर  किया गया हवन पूजन


KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

प्रयागराज यमुनापार क्षेत्र के विभिन्न पंडालो ,मंन्दिरो ,सार्वजनिक स्थलो पर आठवी व नवमी पर माँ महागौरी की  गयी विध विधान से पूजा वही पर पन्डालो और मंन्दिरो मे भक्तो का  भारी संख्या भीड़ देखा गया और माताएं, बहने,बच्चे, भजन किर्तन एंव हवन पूजन कर के लिया माँ दुर्गा का आशीर्वाद वही क्षेत्र के बादलगंज , संरगापुर इरादतगंज ,घूरपुर ,गौहनिया, जसरा, आदी प्रमुख पूजा पन्डालो मे भक्तोगणो का भारी संख्या मे माँ दुर्गा के हवन पूजन कर माता रानी से माँगी अपनी अपनी मनौती पूरे यमुनापार क्षेत्र के विभिन्न पंडालो मे  माँ भगवती की शरदीय नवरात्री के नौ दिन माता के भक्तो के काफी महत्वपूर्ण माना जाता है शरदीय आखिरी दिन माँ सिद्धरात्री की पूजा की जाती है माता के भक्त इस आखिरी दिन को महानवमी के पर्व के रूप मे मानते है पूरे नौ दिनो तक चलने वाले इस पर्व मे माँ नव दुर्गे के अलग,अलग रुपो को भक्त गण पूजते है आज  ही के दिन आयुध पूजा की जाती है इसे अस्त्र पूजा भी कहते है आयुध पूजा को दुर्गा पूजा का अभिन्न अंग माना जाता है।और इस पूजा का संबंध दशहरे से भी है मान्यता है कि माँ दुर्गे ने अपने शस्त्रो के सहारे ही अत्याचारी महिषासुर का वध किया था इसलिये उपकरणो 🏹🗡 और औजारो 🤺⚔की भी पूजा करने की परंपरा है।


🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉🕉
🕉

Share To:

Post A Comment: