मण्डलायुक्त  की अध्यक्षता में मण्डलीय समीक्षा बैठक राजस्व वसूली अधिकारियों पर जताई नाराजगी

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

राजस्व वसूली की समीक्षा में अधिकारियों पर जताई नाराजगी

अभियान चलाकर लक्ष्य के सापेक्ष की जाय राजस्व वसूली- कमिश्नर प्रयागराज कैम्प लगाकर राजस्व वादों का करें निस्तारण-कमिश्नर, प्रयागराज धान खरीद पर सभी आवश्यक कार्यवाही पूरी करने के दिये निर्देश गो आश्रय स्थलों में निर्माण कार्य को ससमय पूरा करने तथा पशुओं की संख्या बढ़ाने पर दिया जोर सड़क के किनारे कूड़ा डालने वालों के खिलाफ की जाए कानूनी कार्यवाही

10 अक्टूबर, 2019 प्रयागराज

मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल की अध्यक्षता मे मण्डलीय समीक्षा बैठक आयुक्त कार्यालय स्थित गांधी सभागार में सम्पन्न हुयी। जिसमे राजस्व वसूली, राजस्व वादों का निस्तारण, गौ-आश्रय स्थल, साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट, आवास योजना, स्वास्थ्य सेवाएं, विकास कार्यों आदि की विस्तृत समीक्षा की गयी। मण्डलायुक्त ने निर्देशित किया कि जी0एस0टी0, आबकारी, विद्युत देय आदि में शत-प्रतिशत राजस्व वसूली के लक्ष्य को प्राप्त करना सुनिश्चित करें साथ ही राजस्व वादों को शीघ्रता से निस्तारित करने के लिए न्यायिक अधिकारियों को सचेत करते हुए सभी जिलाधिकारी राजस्व वादों के निस्तारण में तेजी लाये। उन्होंने स्टाम्प केस के निस्तारण की वस्तुस्थिति की जानकारी भी ली। मण्डलायुक्त ने गोसंरक्षण केन्द्र में गोवंश की संख्या, स्थिति व भूसा चारा, देखभाल, रहने के लिए कितने टीन शेड बने है और कितने बनाये जाने शेष है की जानकारी सम्बन्धित अधिकारियों से ली साथ ही अधिकारियों को निर्देशित किया कि गोसंरक्षण केन्द्रों में किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। इसी प्रकार नगर निगम द्वारा बनाये जा रहे गौसंरक्षण केन्द्रों का संचालन ससमय शुरू करने के निर्देश दिए। विद्युत विभाग समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने रोस्टर वाइस विद्युत की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। लोकल फाल्ट की समस्याओं को समय से ठीक कराये। खराब पड़े ट्रांसफार्मर शासन द्वारा निर्धारित समय में बदले जाये। इसकी शिकायत नहीं प्राप्त होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत कोई भी गांव का कोई भी घर विद्युत कनेक्शन से वंचित न रहने पाये। सभी घरों में विद्युत आपूर्ति के लक्ष्य को पूरा किया जाय। बैठक में सड़क के किनारे कूडा पड़ा रहने तथा जलभराव पर मण्डलायुक्त द्वारा रोष व्यक्त किया गया। उन्होंने अधिकारियो को निर्देशित किया कि सड़क के किनारे कूड़ा फेकनें वालो के खिलाफ कार्यवाही की जाय। इसके साथ ही सभी अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि सड़क के किनारे गंदगी व जलभराव कतई नहीं होना चाहिए और सड़क मरम्मत का कार्य युद्धस्तर पर कमण्डलायुक्त ने मुख्य चिकित्साधिकारियों को अपने जनपदों में एम्बुलेंसों के सुगम संचालन पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया। बैठक में सम्पूर्ण समाधान दिवस मे आने वाले प्रकरणों कें निस्तारण की समीक्षा की गयी। मण्डलायुक्त ने पूर्व में हुए समाधान दिवसों के प्रकरणों की जानकारी जिलाधिकारी और एसडीएम से ली। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी विगत समाधान दिवसों के प्रकरणों की भी समीक्षा करें, जिससे शिकायत का गुणवत्तापूर्ण समाधान हो। उन्होंने साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट पर बोलते हुए कहा कि स्थानों को चिन्हित कर जनपदवार कार्ययोजना बनाकर एक हफ्ते में प्रस्तुत करे। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने इस योजना में अभी तक के लिए कितने आवेदन आये है और कितने लोगो का रजिस्ट्रेशन हो गया है आदि की जानकारी ली। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत जननी सुरक्षा योजना की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सरकार द्वारा मिलने वाली सुविधाओं के विषय में बोलचाल की सरल भाषा में पम्पलेट छपवाकर प्रचार-प्रसार कराये और लोगो को जागरूक बनाये, जिससे वे ज्यादा से ज्यादा इन योजनाओं का लाभ उठा सके। उन्होंने कहा कि आशा बहुओं को प्रशिक्षित करें, जिससे वे ज्यादा से ज्यादा लोगो तक अस्पतालों में दी जाने वाली सुविधाओं का प्रचार कर सके। टीकाकरण की समीक्षा करते हुए उन्होंने हर स्वास्थ्य केन्द्र पर पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। आयुष्मान योजना की समीक्षा करते हुए उन्होंने सभी मुख्यचिकित्सा अधिकारियों से गोल्डन कार्ड बनाने की प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने आयुष्मान भारत योजना का उद्देश्य बताते हुए कहा कि सभी सरकारी अथवा गैर-सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध अच्छी सुविधाओं का लाभ गरीबो को मिलना चाहिए। इस योजना को सफल बनाने के लिए कैम्प लगाकर इस योजना की जानकारी लोगो तक पहुंचाये। स्वच्छता ही सेवा के विषय में बोलते हुए कहा कि सड़को के किनारे गन्दगी नहीं मिलनी चाहिए। छात्रवृत्ति योजना की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने कहा कि जिन छात्रों ने पिछली बार आवेदन किया था और इस बार नहीं किया है उन्हें चिन्हित किया जाय। धान क्रय के सम्बन्ध में उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि निर्धारित तिथि से धान क्रय की सभी तैयारी कर ली जाए बैठक मे जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचन्द्र गोस्वामी, जिलाधिकारी कौशाम्बी  मनीष कुमार वर्मा, जिलाधिकारी फतेहपुर  संजीव सिंह, मुख्य विकास अधिकारी प्रयागराज अरविन्द सिंह सहित मण्डलीय अधिकारीगण उपस्थित रहे ।

Share To:

Post A Comment: