फरियाद करते करते थक गया अधेड़ 

माधौगंज हरदोई से कलयुग की कलम न्यूज 

ब्लाक के अंतर्गत ग्राम पंचायत पिपरावां निवासी अधेड़ रमेश चंद्र पुत्र भगवान् दीन खुले आसमान के नीचे अपना जीवन यापन करने के लिए मजबूर हैं मिली जानकारी के अनुसार गांव निवासी रमेश चंद्र पुत्र भगवान् दीन की हालत अंत्यत खराब है इनका गांव में कच्चा मकान बना था जो बरसात में पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया जिससे इनका परिवार खुले आसमान के नीचे जीवन यापन करने के लिए मजबूर अधेड़ रमेश चंद्र की स्थिति ऐसी नहीं है कि वह अपने कच्चे मकान तक की व्यवस्था कर सकें जिसकी फरियाद कई बार ग्राम प्रधान से मुख्यमंत्री तक जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से पहुंचाई लेकिन किसी ने भी इनकी फरियाद पर ध्यान देना मुनासिब नहीं समझा जबकि मौजूदा प्रधान ऋषि पाल सिंह इसी गांव का निवासी और इनका घर ग्राम प्रधान के घर से लगभग पचास मीटर की दूरी पर है लेकिन एक ही गांव में रहने के बावजूद ग्राम प्रधान ऋषि पाल सिंह कोई ध्यान देना तक मुनासिब नहीं समझा जहां सूबे के मुख्यमंत्री का कहना है कि प्रदेश के हर गरीब को छत मिलेगी लेकिन यहां लेकिन यह गरीब की झोपड़ी को देखने के लिए ग्राम पंचायत सचिव तक नहीं पहुंचे इस पर रमेश चंद्र बताया कि मेरे चार बच्चे हैं तीन लड़की व एक लडका सबसे छोटा है पत्नी की गम्भीर बीमारी के कारण चार साल पूर्व में मृत्यु हो गई थी व खेती के नाम पर खेत नहीं है मजदूरी करके जीवन यापन करना पड रहा है इस गरीबी हालत में बच्चों को प्राथमिक शिक्षा तक नसीब नहीं हो पायी ऐसी हालत को कभी भी प्रशासनिक अधिकारी व सत्ता धारी नेताओं के द्वारा जांच परख करके गरीब के आंसू पोंछ का काम किया जा सकता है


Share To:

Post A Comment: