जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे  तहसील फूलपुर में सम्पूर्ण समाधान दिवस हुआ सम्पन्न

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
      प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

प्रयागराज तहसील फूलपुर में  आने वाली छोटी-छोटी शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित करने हेतु जिलाधिकारी ने दिये सख्त निर्देश

विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियन्ता को सही जवाब न दे पाने पर लगायी कड़ी फटकार जमीन से जुड़ी शिकायते लेखपाल एवं कानूनगों स्थलीय निरीक्षण कर त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चित करें-जिलाधिकारी प्रयागराज

जनसामान्य से जुडी मूलभूत सुविधाओं की शिकायतों के निस्तारण में शिथिलता क्षम्य नही- जिलाधिकारी प्रयागराज।

01 अक्टूबर, 2019 प्रयागराज।

जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचन्द्र गोस्वामी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस फूलपुर में जनसामान्य की शिकायतों को सुना और सम्बन्धित अधिकारियों को समयबद्ध रूप से समाधान दिवस पर आयी हुई शिकायतों का निस्तारित करने के निर्देश दिये। सम्पूर्ण समाधान दिवस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरूद्ध पंकज एवं सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद थे।
समाधान दिवस में शिकायतकर्ता अनुराग पटेल ग्राम सभा नगदलपुर फूलपुर ने विद्युत विभाग द्वारा गलत बिल जनरेट होने की शिकायत की, जिसपर जिलाधिकारी ने शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए अधिशाषी अभियन्ता विद्युत को कड़ी फटकार लगायी तथा पूरी बिल की फाइल को चेक कर जांच के आदेश दिए। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहां कि यदि गलती पायी गयी तो कठोरतम कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को हल्के में न लेकर उसे गम्भीरता से सुने तथा समयबद्ध तरीके से शिकायत का निस्तारण भी सुनिश्चित करें। उन्होंने तहसील फूलपुर के अधिकारियों को निर्देशित किया कि अगले सप्ताह तक छोटे प्रकरणों को सूचीबद्ध करते हुए उसे निस्तारित किया जाय। इसके साथ ही सम्पूर्ण समाधान दिवस पर प्राप्त हो रही शिकायतों को एक टाइमलाइन में निस्तारित करने की कार्यवाही की जाय। किसी भी प्रकरण को बेवजह लम्बित न रखा जाय, इसका विशेष ध्यान रखा जाय जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी समाज के अन्तिम पात्र व्यक्ति तक पहुंचे, यह सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि विभागों में संचालित योजनाओं का कैम्प लगाकर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाय तथा पात्र व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाय। उन्होंने कहा कि लोगो को योजनाओं के बारे में व्यापक रूप से समझ सके, इसके लिए सरल भाषा का प्रयोग किया जाय। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने में लापरवाही करने या शिथिलता बरतने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी।
   जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकतर शिकायते लेखपाल एवं कानूनगों के स्तर की आती है। उन्होने लेखपाल और कानूनगों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि उनसे सम्बन्धित प्रकरणों को जमीनी स्तर पर जाकर निष्पक्ष जांच करते हुए प्रकरणों को निस्तारित किया जाय। प्रकरणो को बेवजह लम्बित रखने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रकरण के निस्तारण में फर्जी रिपोर्ट लगाकर प्रकरण अगर निस्तारित किये गये तो सीधे बर्खास्त किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा दिये निर्देशों का अनुपालन करे तथा लोगो को समस्याओं को निस्तारित करें।  जिलाधिकारी ने इस बात भी जोर दिया कि प्रकरण के निस्तारण करने वाले का पूरा नाम, पद और हस्ताक्षर अवश्य होना चाहिए, इस बात का ख्याल रखा जाय।
      जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस पर आयी विद्युत की शिकायतों पर विद्युत विभाग के अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देशित किया कि विद्युत की शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर समाधान किया जाय। बिजली विभाग के अधिकारियों के द्वारा अगर मौके पर कार्य नही पाया गया तो सीधे चार्जशीट लगा दी जायेगी। उन्होंने कहा कि लोगो से जुड़ी मूलभूत सुविधाओं की शिकायतों को सम्बन्धित विभाग के अधिकारी पूरी गम्भीरता से ले, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही किसी भी स्तर पर क्षम्य नही होगी। इसी तरह उन्होंने सड़कों पर पशुओं के आवागमन पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की और निर्देशित किया कि सड़कों पर पशुओं का आवागमन न हो यह सुनिश्चित किया जाय। तहसील समाधान दिवस पर कुल 302 आवेदन पत्र आये, जिनमें 12 का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि एक सप्ताह के अन्दर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित करें।
इलाहाबाद-झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र की निर्वाचक नामावली में अपना नाम अंकित कराने के लिए करें आवेदन
उत्तर प्रदेश विधान परिषद के इलाहाबाद-झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र की निर्वाचक नामावलियों को तैयार करने हेतु भारत निर्वाचन आयोग तथा मुख्य निर्वाचन अधिकारी उ0प्र0 लखनऊ के द्वारा 01 नवम्बर, 2019 की नामावली तैयार कराये जाने के निर्देश दिये है। निर्वाचन नामावली में रजिस्ट्रीकृत किये जाने के हकदार प्रत्येक व्यक्ति से यह अपेक्षा की जाती है कि अपना नाम सम्मिलित किये जाने के लिये निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण नियम-1960 के अन्तर्गत फाॅर्म-18 में अपना आवेदन पत्र जिला निर्वाचन कार्यालयों हायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तिरिक्त सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के कार्यालय आयुक्त कार्यालय, झांसी एवं संबंधित अधिकारी विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र दाभिहित केन्द्रों में भेज दें या परिदत्त कर दें। अर्हक तारीख के संदर्भ निर्वाचक नामावलियां निर्धारित तरीके से नयी बनायी जायेंगी।
आवेदन पत्र फाॅर्म-18 संबंधित जिला निर्वाचन कार्यालयों एवं निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी दाभिहित अधिकारियों के कार्यालयों से प्राप्त किये जा सकते है। पाण्डुलिपि, टंकित साईक्लोस्टाइल किये गये अथवा व्यक्तिगत रूप से मुद्रित डाउनलोड किये गये फाॅर्म भी स्वीकार किये जायेंगे।


Share To:

Post A Comment: