हर माह की 10 तारीख को आंगनबाड़ी केंद्रों पर मनाया जाएगा ग्रामीण पोषण दिवस

KKK न्यूज़ रिपोर्टर
          नैनी
      सुभाष चंद्र

गर्भवती महिलाओं बच्चों एवं उनके परिवार वालों को किया जाएगा जागरूक 

प्रयागराज 12 नवम्बर 2019 : पोषण की शुरुवात गर्भावस्था से लेकर 2 वर्ष तक की आयु वाले बच्चों के परिवारों को पोषण व्यवहार अपनाने के लिए जिले के सभी ग्रामीण आंगनबाड़ी केंद्रों पर हर माह की 10 तारीख को ग्रामीण पोषण दिवस मनाया जायेगा इसके लिए महानिदेशक राज्य पोषण मिशन उत्तर प्रदेश द्वारा जनपद के जिला कार्यक्रम अधिकारियों को पत्र जारी कर निर्देशित किया गया है।


महानिदेशक राज्य पोषण मिशन ने जारी पत्र में कहा है कि ग्रामीण पोषण दिवस के दिन केंद्र पर आने वाली गर्भवती महिलाओं ,धात्री माताओं, बच्चों उनके परिवार वालों के बीच ऊपरी पूरक आहार पर चर्चा हेल्दी बेबी शो तथा स्वस्थ मां प्रतियोगिता के साथ ही आठ माह पूर्ण कर चुकी गर्भवती एवं 6  माह से ऊपर वाली धात्री मां हेतु पोषण मानक के बारे में लोगों को प्रोत्साहित किया जाए । साथ ही केन्द्रों पर विविध गतिविधियां आयोजित कर पोषण के प्रति लोगों को  जागरूक किया जाए। जिससे कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों के पोषण स्तर में सुधार लाया जा सके।

जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज राव ने बताया कि कुपोषण का सबसे अधिक प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु और उसके जीवन के पहले 2 वर्ष पर पड़ता है। गर्भधारण से लेकर जीवन के पहले 2 साल की अवधि पोषण की दृष्टि से महत्वपूर्ण है ।यह अवधि बच्चों के सुपोषित भविष्य की नींव रखने के लिए सुनहरा अवसर प्रदान करती है इसके लिए समाज एवं परिवार में गर्भवती महिलाओं और बच्चों को संतुलित व पौष्टिक आहार देने के प्रति जागरूक किया जाना आवश्यक है। उन्होंने ने बताया कि 6 माह के बाद बच्चों को ऊपरी आहार की शुरुआत करनी चाहिए लेकिन जो भोजन बच्चों को दिया जा रहा हो वह पौष्टिक होना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि ऊपरी आहार में घर में उपलब्ध स्थानीय व मौसमी खाद्य पदार्थों जैसे दाल, चावल, केला, हरी पत्तेदार सब्जियां, आदि का उपयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे बच्चे की आयु बढ़ती जाए भोजन की मात्रा उपयुक्त होनी चाहिए बच्चों के भोजन में कार्बोहाइड्रेट, वसा, प्रोटीन युक्त पदार्थ तथा सूक्ष्म पोषक तत्व समुचित मात्रा में हो । और बच्चों को आहार खिलाते समय माताओं का पूरा ध्यान बच्चों पर ही रहना चाहिए इससे बच्चा रोचकता के साथ भरपेट भोजन कर लेता है। उन्होंने बताया कि जनपद प्रयागराज के सभी ग्रामीण 3,954 आंगनबाड़ी केंद्रों पर प्रत्येक माह 10 तारीख को ग्रामीण पोषण दिवस मनाया जाएगा |
Share To:

Post A Comment: