परछी में सोता रहा पूरा परिवार, नगदी ,जेवर सहित गृहस्थी जलकर हो गई खाक

 बुधवार-गुरुवार दरम्यानी रात डुंडी में लगी आग, तीन घण्टे बाद पहुँचा दमकल वाहन

कलयुग की कलम (अंकित झारिया)

कटनी/उमरियापान :- बुधवार- गुरुवार की दरम्यानी रात एक परिवार अपने घर मे सोता रहा, उसी दौरान उसके घर में आग लग गई। आगजनी से घर में रखा गृहस्थी का पूरा समान सहित जेवर व नगदी रुपये के अलावा जरूरी कागजात जलकर राख हो गए। घटना उमरियापान थाना क्षेत्र के डूडी गांव की है।आग कैसे लगी और किसने लगाया इसकी जानकारी किसी को नहीं है। वहीं आगजनी घटना की जानकारी होने के बाद गुरुवार को राजस्व और पुलिस विभाग का कोई अधिकारी -कर्मचारी पीड़ित परिवार के घर नहीं पहुँचा। जिससे की नुकसान के आंकलन की कोई कार्रवाई नहीं हो सकी।

 हासिल जानकारी के मुताबिक डूडी निवासी लखन लाल लोधी जो बीड़ी ठेकेदार है।बुधवार रात परिवार के सभी लोग खाना खाकर परछी में सो रहे थे। देर रात उसके मकान में आग लग गई। आग की लपेटें इतनी तेज रही कि आग मकान के चार कमरों में फैल गई।घर रखी बीड़ी, तेंदूपत्ता,कपड़े,सोने चांदी के जेवर,जरूरतमंद कागजात, नगदी रुपये सहित पूरी गृहस्थी का सामान जलकर खाक हो गया। अब परिवार के लोगों पास कुछ भी नहीं बचा है। देररात आग की लपेटों को देखकर आसपास के लोगों ने परिवार को बताया।ग्रामीणों ने आगजनी घटना की जानकारी पुलिस डायल 100 और फायर बिग्रेड को दिया। पुलिस और ग्रामीणों ने पानी के सहारे आग बुझाने का प्रयास किया,लेकिन आग नहीं बुझ पाई।

 तीन घण्टे बाद पहुँचा दमकल वाहन:- आगजनी घटना की सूचना के तीन घण्टे बाद रात करीब 2 बजे जब कटनी से दमकल वाहन पहुँचा।दमकल कर्मियों ने आग को काबू में किया। जब तक कि घर मे रखी सारी गृहस्थी का सामान जलकर खाक हो गया। परिवार के मुखिया लखनलाल लोधी ने बताया कि आगजनी घटना से कुछ नहीं बचा है।आग कैसे लगी नहीं पता,हम लोग सो रहे थे।घटना में करीब 15 लाख रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है। 

हो सकता था बड़ा हादसा:- मकान के जिन कमरों में आग लगी थी उसी एक कमरे में गैस सिलेंडर रखा था।आग की लपेटों से गैस सिलेंडर में आग भड़क उठी। गैस सिलेंडर ब्लास्ट होता उसके पहले कि ग्रामीणों ने किसी तरह गैस सिलेंडर को कमरे से बाहर निकालकर आग को बुझाया। लखन लाल ने बताया कि यदि गैस सिलेंडर ब्लास्ट होता है बड़ी घटना हो सकती थी।




Share To:

Post A Comment: