जिलाधिकारी की अध्यक्षता में धान खरीद व्यवस्था की समीक्षा 

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
       प्रयागराज
   विकास कुमार
01 नवम्बर से सभी धान केन्द्रों को संचालित करने के जिलाधिकारी ने दिये निर्देश
पुआल खेतों में न जलाया जाय, इसके लिए किसानों को करें जागरूक-जिलाधिकारी,
धान क्रय का भुगतान आॅनलाइन तरीके से 72 घण्टों के अन्दर किया जाना सुनिश्चित करें-जिलाधिकारी प्रयागराज
31 अक्टूबर, 2019 प्रयागराज।
जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में संगम सभागार में धान खरीद व्यवस्था की समीक्षा बैठक की। बैठक में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट संदीप भागीया, अपर जिलाधिकारी (ना0आ0), डिप्टी आर0एम0, जिला कृषि अधिकारी एवं मार्केटिंग इंस्पेक्टर सहित धान क्रय केन्द्रों के प्रभारीगण मौजूद थे।
जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान निर्देशित किया कि 01 नवम्बर से सभी धान क्रय केन्द्र संचालित हो जाने चाहिए। उन्होंने बताया कि किसानों का किसी भी प्रकार से उत्पीड़न नहीं होना चाहिए। उन्होंने बताया कि सभी क्रय केन्द्रों पर पोस्टर या बैनर के माध्यम से डिटेल मेें धान क्रय से सम्बंधित जानकारी लिखा होना चाहिए। उन्होंने बताया कि कुल 106 केन्द्रों पर रजिस्टर रखे होने चाहिए। शिकायते कहीं से भी किसी कीमत पर नहीं आनी चाहिए तथा कोई भी क्रय केन्द्र बंद नहीं होने चाहिए। पहले आपके द्वारा क्रय होनी चाहिए। दलाल किसी भी कीमत पर बीच में नहीं आने चाहिए। आढ़तियों का हस्तक्षेप नहीं होना चाहिए। उन्होंने बताया कि 100 कुंतल तक खरीद के लिए सत्यापन की आवश्यकता नहीं होगी, उससे अधिक की खरीद पर सत्यापन की आवश्यकता होगी। आरटीजीएस के माध्यम से सभी क्रय एजेंसियों द्वारा धान के मूल्य का भुगतान आॅनलाइन तरीके से सामान्यतः 72 घण्टों के अन्दर की जायेगी, किन्तु सुनिश्चित किया जायेगा कि विलम्बतम 07 दिनों में कृषक को भुगतान अवश्य हो जाना चाहिए। तहसील स्तर पर उपजिलाधिकारी को इसका नोडल अधिकारी बनाया गया है। क्रय केन्द्रों के खुलने का समय प्रातः 09ः00 बजे से सायं 05ः00 बजे तक होगा। धान क्रय केन्द्रो पर महिलाओं को खरीद में वरीयता देते हुये बगैर नम्बर के भी उनका धान क्रय करने के निर्देश दिये। जनपद प्रयागराज में धान की उत्पादकता लगभग 47.60 कु0 प्रति हेक्टेयर है। औसत उत्पादन का 150 प्रतिशत को आधार बनाकर धान क्रय किया जायेगा। क्रय केन्द्रों एवं भण्डारण डिपो पर सही तौल सुनिश्चित कराने हेतु अपर जिलाधिकारी(ना0आ0) की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है। पंजीकृत समितियां केवल सीमान्त एवं लघु कृषकों से जिले की उत्पादकता के आधार पर धान क्रय कर सकेंगी। सीमान्त कृषक (अधिकतम भूमि 01 हेक्टेयर) तथा लघु कृषक (अधिकतम भूमि 02 हेक्टेयर) को धान बेचने के लिये सप्ताह में 02 दिन (मंलगवार एवं शुक्रवार) आरक्षित रहेगा। 
जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी कीमत पर खेतों में पुआल को नहीं जलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि पुआल को गौवंश आश्रय में दे सकते है। 

जिलाधिकारी ने लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर आयोजित रन फॉर यूनिटी कार्यक्रम का हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किय जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचंद्र गोस्वामी ने लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर पुलिस लाइन में आयोजित रन फॉर यूनिटी कार्यक्रम का हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में युवाओं, स्कूली बच्चों और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने हिस्सा लिया। जिलाधिकारी ने सरदार पटेल के देश को एकजुट करने के प्रयासों की चर्चा करते हुए कहा की लौह पुरुष द्वारा देश के विभिन्न भागों को आपस में जोड़ने का अभूतपूर्व कार्य सरदार पटेल द्वारा किया गया जिसकी वजह से देश का आज सर्वांगीण विकास संभव हुआ है। सरदार पटेल का जन्मदिन राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाये जाने से जनमानस में राष्ट्रप्रेम की भावना और अधिक मजबूत होती है। कार्यक्रम में सभी ने राष्ट्र की एकता अखंडता और सहिष्णुता की रक्षा करने की शपथ ली।
कार्यक्रम में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरूद्ध पंकज के साथ पुलिस विभाग के अन्य अधिकारगण मौजूद रहे।

Share To:

Post A Comment: