गांव की महिलाओं में सशक्तिकरण है बढ़ा सकती हैं आगे

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
     विकास कुमार

गांव की महिलाओं में सशक्तिकरण है जो अपनी आमदनी समूह के माध्यम से बढ़ा सकती हैं- सिद्धार्थ नाथ सिंह

गुजरात की महिलाओं से आगे बढ़कर उत्तर प्रदेश की महिलाएं भी पूरे भारत की विकास मॉडल बन सकती है-प्रवक्ता

डिजाइन देने और ट्रेनिंग सरकार मुफ्त में कराएगी महिलाएं आगे बढ़कर अपने जीवन को खुशहाल बनाएं -सिद्धार्थ नाथ सिंह

सड़कों का निर्माण बस्तियों में बिना नाली निर्माण के न हो-सिद्धार्थ नाथ सिंह

प्रयागराज 24 नवंबर,2019।गांव के अंदर जो महिलाओं का सशक्तिकरण है उस दिशा को मजबूती देने का कार्य कर रहा हूं यह उदगार उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री  सिद्धार्थ नाथ सिंह ने भाजपा कार्यकर्ता सम्मान समारोह मंदर में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए व्यक्त किया। सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा गांव में जो महिलाओं के समूह होते हैं उस समूह में काम करने वाले महिलाओं का सशक्तिकरण है।हम उस दिशा की ओर जा रहे हैं। उसकी प्रेरणा मुझे गुजरात से मिली। गुजरात के अंदर ललिता शास्त्री स्नेही सेवा संस्थान की तरह कई समूह तैयार है।जहां समूह की महिलाएं अपने घर की रोजी रोटी चलाने के साथ-साथ अपनी 10 -15 -20 हजार की आमदनी हर माह कर रही है। गुजरात में एक महिला ने दो गाय से दूध का काम शुरू किया आज उसके पास 70,80 गाय हो गई। उसने डेयरी का व्यापार शुरू कर दिया। सरकार से अनुदान के माध्यम से अपनी आय की व्यवस्था को बढ़ाने का कार्य किया। बल्कि गुजरात की एक महिला ने महिलाओं का दिशा और दशा बदल दिया। मैं दो साल पहले उससे मिलने गया था। उसे समझने के लिए की मॉडल क्या है। आप सबको आश्चर्य होगा वह महिला नौवीं कक्षा पास थी और आज वह गुजराती महिला का की आमदनी डेढ़ करोड़ रुपए हैं। ललिता शास्त्री हमारी पूज्य नानी है। उनके नाम से ही विधानसभा शहर पश्चिमी में महिलाओं के बीच सशक्तिकरण के लिए कार्य शुरू किया गया है। अभी विगत दिनों दो कैंप लगे थे उस कैम्प के माध्यम से सरकार की क्या-क्या योजनाएं हैं सरकार महिलाओं के जीवन स्तर उठाने के लिए क्या-क्या कर सकती है उसकी जानकारी कैम्प के माध्यम से आपको दिया जितनी भी महिलाएं यहां पर आई है सभी लोग एक दूसरे से जुड़ कर के आवेदन करें। क्योंकि महिलाओं में ऐसी शक्ति है जो घर के अंदर रह कर के कठिनाइयों को झेलने के बाद भी एक बेहतरीन कार्य के लिए अपने जीवन को आगे बढ़ा सकती है।
 सिद्धार्थ नाथ सिंह ने लिज्जत पापड़ के बारे में पूछा कितने लोग जानते हैं कुछ महिलाओं ने हाथ उठाकर के लिज्जत पापड़ के विषय पर समर्थन किया। मा0 मंत्री ने बताया कि लिज्जत पापड़ के कार्य को 6 महिलाओं ने शुरू किया था फिर उसमें 7 ,10, 15, 20 महिलाओं ने एक दूसरे को जोड़ते गए जो आज देश ही नहीं पूरे विदेश में लिज्जत पापड़ बिक रहा है।गुजरात मध्य प्रदेश राजस्थान में महिलाओं का समूह देश के विकास में योगदान देने के साथ-साथ अपने परिवार में एक अच्छी खासी आमदनी के जरिए अपने जीवन को खुशहाल कर रही है। भारत में इतना बड़ा मार्केट है कि उस मार्केट के जरिए आप भी अपने जीवन को उठाने के लिए समूह के माध्यम से जुड़कर आगे बढ़ सकते हैं। लोगों के दिमाग में है कि सरकार नौकरी देती है लेकिन समय बड़ा परिवर्तन आ गया है। पिछली सरकारों को जहां पर काम करना चाहिए था वहां पर उन्होंने काम नहीं किया अगर सही दिशा में कार्य किया होता आज गांव का कोई भी व्यक्ति बेरोजगार न होता। आप लोगों ने यूपिका कंपनी के बारे में सुना होगा जो व्यापार जो दुकान व्यापारियों को चलाना चाहिए था उसको सरकार चला रही है और नतीजा यह हुआ सब बंद हो गए हैं। सिलाई ,बुनकर, अचार ,मसाला आदि घरेलू काम करने के बाद घर मे बनाकर अपना जीवन खुशहाल कर सकते है। हम शिल्पकार हथकरघा बुनकर आदि क्षेत्रों में भी कार्य करने वाले को बढ़ावा दे रहे हैं डिजाइन और ट्रेनिंग सरकार मुफ्त में देगी।मैं तो चाहता हूं विधानसभा शहर पश्चिमी के हर गांव से समूह में जोड़ कर अपने जीवन को खुशहाल बनाने के लिए आगे बढ़े।
इससे पहले माननीय मंत्री जी भगवतपुर गांव पहुंचे जहां विगत दिनों डंपर की टक्कर से तीन लोगों की मौत से मौत हुई थी। प्रभावित परिवार अशोक पांडे और छविनाथ दुबे से मिले शोक संतप्त परिवार को सांत्वना देते हुए कहा कि सरकार हर संभव सहायता करेगी। जो भी दोषी होंगे उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
तत्पश्चात चिल्ला गांव में जहां गैस सिलेंडर फटने से दो मंजिला मकान ध्वस्त होने और दो लोगों की मृत्यु से प्रभावित परिवार से मिलकर सांत्वना दिया और हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया। मंत्री चिल्ला गांव से मंदर गांव भाजपा कार्यकर्ता सम्मान समारोह में जा रहे थे कि रास्ते में गांव वालों ने मंत्री को रोककर लोक निर्माण विभाग खंड एक द्वारा निर्माणाधीन सड़क को देख लेने की मांग किया तो रुक गए गांव वालों ने शिकायत किया कि लोक निर्माण विभाग बिना नाली बनवाए ही सड़क का निर्माण कर रहे हैं। जिस पर उपस्थित लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों एवं ठीकेदार पर बिफर पड़े और बोले बिना नाली निर्माण के सड़कों का निर्माण न कराया जाए, अगर बिना नाली निर्माण के ही सड़क निर्माण हुआ तो कोई भी अधिकारी बख्शा नहीं जाएगा। गुणवक्ता को भी लेकर ग्रामीणों ने आक्रोश व्यक्त किया जिस पर  मंत्री ने कहा क्वालिटी और गुणवक्ता पर कोई समझौता नहीं होगा। लोक निर्माण विभाग मानक के अनुरूप ही सड़क का निर्माण कराएं।
उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने विधानसभा शहर पश्चिमी के मनोनीत मंडल अध्यक्ष दीनानाथ कुशवाहा, गौरव गुप्ता, कौशिकी सिंह, ज्ञान बाबू केसरवानी को भाजपा गमछा व माला पहनाकर सम्मानित किया और इससे पहले ललिता शास्त्री स्नेही सेवा संस्थान की बारह मुख्य सेविकाओं को डायरी पेन ,भाजपा गमछा एवं माला पहनाकर  मंत्री की धर्मपत्नी डॉ नीता सिंह ने सम्मानित किया।सम्मानित होने वाले प्रमुख महिलाएं रेखा पटेल ,शशि कला ,शिवानी शर्मा ,सबीना बेगम, इस्मत जहां ,जन्नत निशा, शिवांगी साहू, शकुंतला देवी, प्रीति, वंदना, सुनीता भारतीय, एवं उषा पाल रही।
इस मौके पर कार्यक्रम का संचालन महानगर कोषाध्यक्ष प्रेम नारायण केसरवानी ने किया। साथ ही पीयूष रंजन निषाद, श्रीप्रकाश त्रिपाठी ,अशोक कुमार सिंह ,श्याम त्रिपाठी, एखलाक अहमद, रमेश तिवारी गणेश सिंह, प्रमिला पटेल, मुन्ना सिंह ,रजनीश तिवारी, राजेश पांडे, सदभाव पटेल, हरिश्चंद्र यादव, राम सजीवन, रामनरेश सिंह पटेल, सत्य प्रकाश कुशवाहा, अशोक कुमार पटेल, सतीश कुमार सिंह, सुनील निषाद, सुरेंद्र कुमार सिंह, फूलचंद कुशवाहा, श्रीनाथ,ज्ञान सिंह दिवाकर ,चिरंजीलाल, छत्रपति सिंह,रामलोचन साहू,पवन श्रीवास्तव, मीडिया प्रभारी दिनेश तिवारी आदि मौजूद रहे।


Share To:

Post A Comment: