राज्यपाल ने इलाहाबाद संग्रहालय का अवलोकन किया

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
     विकास कुमार

ऐतिहासिक वस्तुओं के बारे में संग्रहालय के निदेशक से ली जानकारी

पार्वती हाॅस्टिपटल पहुंचकर माडयूलर आई0सी0यू0 आईएसओ 7 क्लीन रूम का शिलान्यास लोकार्पण किया

संगम, अक्षयवट और लेटे हुए हनुमान जी का किया दर्शन पूजन

11 नवम्बर, 2019 प्रयागराज

इलाहाबाद संग्रहालय में  राज्यपाल उत्तर-प्रदेश एवं अध्यक्ष इलाहाबाद संग्रहालय समिति श्रीमती आनंदीबेन पटेल का प्रथम भ्रमण सम्पन्न हुआ। प्रयागराज प्रवास के अपने व्यस्ततम कार्यक्रम से इलाहाबाद संग्रहालय समिति के अध्यक्ष के रूप में संग्रहालय को प्राथमिकता देते हुए माननीय राज्यपाल महोदया ने न केवल संग्रहालय की विविध वीथिकाओं का भ्रमण किया अपितु निदेशक (प्र०)डाँ सुनील गुप्ता एवं कार्यकारिणी समिति के सम्मानित सदस्य प्रो०योगेश्वर तिवारी, डाँ ओ०ए० वानखेडे, उप संग्रहपाल, श्री रघुवंश तिवारी, सहायक प्रशासनिक अधिकारी एवं संग्रहालय के अधिवक्ता श्री अरूण सिंह देशवाल की उपस्थिति में विकास कार्यों के साथ  ही संग्रहालय में निर्माणाधीन आजाद वीथिका के प्रगति की जानकारी ली। अध्यक्ष महोदया ने अपने भ्रमण के दौरान संग्रहालय में न केवल जन-सुविधाओं को बढाने का निर्देश दिया अपितु अन्तर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरुप संग्रहालय के विकास के लिए कार्य-योजना बनाने व कार्यान्वित करने हेतु भी निर्देशित किया।

 राज्यपाल ने सबसे पहले शहीद चंद्र शेखर आजाद की संग्रहालय में मौजूद उनके जीवन के आखरी समय के चित्र को देखा साथ ही वहां रखी चन्द्रशेखर आजाद द्वारा अपने आखिरी समय में प्रयोग की गयी रिवाल्वर को भी देखा। संग्रहालय के निदेशक ने  राज्यपाल को बताया कि यह तस्वीर उस समय की है जब चंद्रशेखर अंग्रेजो से लोहा लेते हुए चारो तरफ से घिर जाने के कारण कोई और रास्ता न होते हुए अपने आपको देश के लिए शहीद कर दिया था। उनका मानना था कि मैं अंग्रेजो की गोली से न मरकर शान के साथ मरू। वीर चंद्रशेखर ने मरने से पूर्व तीन अंग्रेज पुलिस कर्मियों को मार गिराया था। तदुपरान्त उन्होंने पांचवी शताब्दी की लाल बालू पत्थर से बनी हुई एकमुख शिवलिंग को देखा और उसके विषय में संग्रहालय के निदेशक से जानकारी ली। इसके बाद  राज्यपाल पूर्व मध्य कालीन प्रस्तर शिल्प गैलरी में मौजूद मूर्तियों को अवलोकन किया।  राज्यपाल ने संग्रहालय का भ्रमण करते हुए संग्रहालय में रखी प्राचीन वस्तुओं का अवलोकन किया और इनके विषय में संग्रहालय के निदेशक से जानकारी लेती रही।  

संग्रहालय को देखने के बाद  राज्यपाल पार्वती हाॅस्टिपटल पहुंचकर माडयूलर आई0सी0यू0 आईएसओ-7 क्लीन रूम का शिलान्यास लोकार्पण किया। उन्होंने हाॅस्पिटल में मौजूद सुविधाओं को देखा। उन्होंने कहा कि हमें आने वाली टेक्नोलाॅजी का इस्तेमाल करके एक आधुनिक हाॅस्पिटल का निर्माण करना है। यहां पर बच्चो के इलाज की बेहतर व्यवस्था है।

 राज्यपाल ने संगम तट पर पहुंचकर मां गंगा यमुना और गुप्त सरस्वती का दर्शन पूजन किया। उन्होंने विधि-विधान के साथ मां गंगा की आरती की। मां गंगा से उन्होंने देश और प्रदेश की सुख-शांति, समृद्धि की कामना की। संगम तट पर दर्शन के बाद  राज्यपाल ने लेटे हुए हनुमान जी और अक्षयवट का दर्शन किया।



Share To:

Post A Comment: