कार्तिक पूर्णिमा पर भरभरा आश्रम में उमड़ी श्रद्धालुओं भीड़

 भरा मेला, दुर्गा प्रतिमाओं का हुआ विसर्जन

कलयुग की कलम (अंकित झारिया)

उमरियापान:- कार्तिक पूर्णिमा में मंगलवार को उमरियापान सहित आसपास से गुजरी नदीयों में स्नान और दीपदान करने के लिए महिलाओं की भीड़ सुबह से ही देखी गई।सनातन धर्म में कार्तिक मास का विशेष महत्व होने के कारण सुबह छह बजे से ही नहर,नदीयों के घाटों में लोग स्नान करने के लिए श्रद्धालु जुटे रहे।

वहीं कार्तिक पूर्णिमा गुरुनानक जयंती के अवसर पर उमरियापान से 4 किलोमीटर दूर स्थित भरभरा आश्रम में मेले जैसा नजारा बना रहा।सुबह से स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने भरभरा आश्रम के स्थित  नीलकंठ महाराज, हनुमानमंदिर, दुर्गा प्रतिमा, गणेश प्रतिमाए और संत श्री बनवारी दास जी महाराज के दर्शन किये। बच्चों सहित महिलाएं और पुरुषों ने संत महाराज को नमन कर चरण छूते हुए आशीर्वाद लिया। आश्रम में महिला पुरूष बच्चों सहित श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी।आसपास से पहुँचे लोगों ने गक्कड़ भर्ता जैसे वन भोज तैयार कर परिवार के साथ आनंद उठाया।वहीं दूरदराज से पहुँचे श्रद्धालुओं ने भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया।

मेले में आकर्षक दुकानें भी लगी।दुकानों में लोंगों ने खाने-पीने के साथ ही खेल-खिलौने व गुब्बारों की दुकानों पर सामानों की जमकर खरीदारी की। मेले में खासकर बिकने वाली गुड़ की जलेबी की दुकानों व चाट-पकौड़ी के ठेलों पर भीड़ अधिक देखने को मिली। मेले में परिवार वालों के साथ घूम रहे छोटे-छोटे बच्चों की उत्सुकता तो देखते ही बनी। देर शाम बाद धूमधाम से भरभरा आश्रम से गुजरी सिलपरा नदी में दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया।इस दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की उपस्थिति रही।



Share To:

Post A Comment: