सड़को पर बेख़ौफ हो कर दौड़ रहे वाहन, ओवर लोड गाड़ियों से गंभीर हादसे की आशंका

 
लोग अपनी जान जोखिम में डालकर पिकप, जीप, मैक्स व छोटा हाथी जैसी गाडिय़ों में यात्रा कर रहें हैं।

कोरिया! जिले के मनेन्द्रगढ़ सहित पूरे ग्रामीण व कोयलांचल क्षेत्रों में परिवहन व पुलिस विभाग के ढुलमुल रवैया के चलते यहां धडल्ले ओवरलोड़ सवारी बस व ओवर लोड़ वाहनें सडक़ पर दौड़ रहीं हैं। लोग अपनी जान जोखिम में डालकर पिकप, जीप, मैक्स व छोटा हाथी जैसी गाडिय़ों में यात्रा कर रहें हैं। शहर में वर्षो से चल रहा ओवर लोड़ एवं नियम कायदों का नजर अंदाज करने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा।

पुलिस एवं परिवहन विभाग के आंखों के सामने नियमों की हो रहीं अनदेखी। शहर में ओवरलोड़ वाहनों के चालकों के हौसले बुलंद हैं। क्षमता से अधिक यात्री व जीपों से भरकर लोगों की जान जोखिम में डालकर सफर करवा रहें हैं।

साप्ताहिक बाजारों में ओवरलोड वाहन अधिक
शहर की साप्ताहिक बाजारों में ओवर लोड यात्री वाहनों एवं मालवाहक बड़ी मात्रा में देखने को मिलेगी। जीप एवं मैक्स, पिकप जैसी वाहनों में 30 से 40 लोगों को ठूस ठूस कर भरा जाता हैं। लेकिन इसको रोकने वाला कोई नहीं हैं।

हो सकती है बडी दुर्घटनाएं
शहर में ओवर लोड वाहन धडल्ले से चल रहे है और नागरिक इन वाहनों में अपनी जान को
जोखिम ले लेकर यात्रा करते जा रहे है। जिसके चलते कभी भी बडी दुर्घटना होने की संभावना हो सकती है। अगर जिले के पिछले वर्षो का अगर रिकार्ड उठाकर देखा जाए तो कई दुर्घटनाएं ओवर लोड वाहनों की वजह से ही हुई है। लेकिन फिर भी संबंधित विभाग इस और ध्यान नही दे रहा है अगर समय पर इस ओर ध्यान नही दिया गया तो फिर से कोई बडी दुर्घटना हो सकती है।


संबंधित विभागों पर उठ रहे सवाल
शहर की मुख्य सडक़ों और ग्रामीण सडक़ों पर लम्बें समय से नियम विरोध सडक़ पर वाहनों दौड़ रहीं हैं। लेकिन संबधित पुलिस विभाग एवं परिवहन विभाग द्वारा कार्रवाई शुन्य दिख रहीं हैं। इसको देखने संबधित विभागों पर कई तरह के सवाल उठना जायज है। विभाग द्वारा कार्रवाई नहीं होने के चलते लोग जान जोखिम में डालकर सवारी कर रहें हैैं। विभागों का मौन होना संदेह का विषय है

*मनेंद्रगढ़, जिला कोरिया, छत्तीसगढ़ से संजीव गुप्ता के साथ राजेश सिन्हा की खास रिपोर्ट*
Share To:

Post A Comment: