जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे  विकास कार्यों की समीक्षा 

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
      विकास कुमार

राजकीय निर्माण निगम द्वारा कार्यों में शिथिलता बरते जाने एवं बैठक से परियोजना निदेशक के अनुपस्थित रहने पर दी कड़ी चेतावनी छात्रवृत्ति के लिए प्रत्येक ब्लाकों पर एक केन्द्र खोलकर छात्रों का फार्म जमा करायें 

जिलाधिकारी, प्रयागराज पुल को खेतों में न जलाने की किसान भाईयों से जिलाधिकारी ने अपील की

02 नवम्बर, 2019 प्रयागराज।

जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में 71 बिन्दुओं के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक संगम सभागार में सम्पन्न हुई, जिसमें मुख्य विकास अधिकारी  प्रेमरंजन सिंह, डी0एस0टी0ओ0 जितेन्द्र कुमार, पी0डी0डी0आर0डी0ए0  के0के0 सिंह, डी0डी0ओ0- ए0के0 मौर्या सहित जनपदस्तरीय अधिकारीगण मौजूद थे।
जिलाधिकारी ने समीक्षा के दौरान नये खुले ब्लाकों का अभी तक संचालन न कराये जाने पर डी0डी0ओ0 को चेतावनी दी, इसी क्रम में राजकीय निर्माण निगम द्वारा कार्यों में शिथिलता एवं बैठक में अनुपस्थित रहने के कारण परियोजना निदेशक को भी चेतावनी दी। समाज कल्याण विभाग की समीक्षा करते हुए समाज कल्याण अधिकारी से छात्रवृत्ति की जानकारी ली तथा निर्देशित किया कि प्रत्येक ब्लाकों पर एक केन्द्र खोलकर छात्रों का फार्म जमा कराया जाये, जिससे कि छात्रों को भटकना न पड़े। छात्र अपने ब्लाकों पर ही फार्म जमा कर सकते है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना की समीक्षा करते हुए बताया कि पहले सत्यापन करा लिया जायें। उसके बाद जो भी पात्र लाभार्थी है, उसका वृहद रूप से कार्यक्रम कराया जाये। वृद्धावस्था पेंशन में लम्बित प्रकरणों पर वी0डी0ओ0 कोरांव पर असंतोष जाहिर किया तथा कार्यों में तेजी लाने का निर्देश दिया। विधवा पेंशन में लम्बित प्रकरणों पर नाराजगी व्यक्त की। दिव्यांगजन के लिए प्रत्येक ब्लाक वाइज सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया तथा ब्लाक स्तर पर कैम्प लगाकर उनको सरकारी योजनाओं का लाभ दिया जायेगा। मुख्यमंत्री आवास योजना एवं प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक पात्र व्यत्यिों को शत-प्रतिशत इस योजना का लाभ दिया जाये। इसमें कोई भी कोेताही कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। खण्ड विकास अधिकारी अपने स्तर पर सत्यापन सुनिश्चित कर लें। सड़कों को गड्ढ़ामुक्त करने की जानकारी लेते हुए उन्होंने सभी जनपदस्तरीय अधिकारियों और बीडीओ से यह अपेक्षा की गयी है कि जो भी सड़के अभी भी गड्ढ़ामुक्त नहीं हो पायी है, उसको फोटो सहित जानकारी उपलब्ध करायी जाये तथा सम्बन्धित विभाग उसे तत्काल दुरूस्त करायें। सिंचाई विभाग में नहर प्रखण्ड की समीक्षा करते हुए बताया कि सभी माइनरों की सफाई होनी है, उसके लिए पहले तथा बाद में वीडियोग्राफी कराना है कि पहले कि क्या स्थिति थी और सफाई के बाद की क्या स्थिति है। उन्होंने कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए किसान क्रेडिट कार्ड आदि की जानकारी ली। उन्होंने पुआल को खेतों में नहीं जलाना है, खेतों के लिए काफी नुकसानदायक है। उसे पुआल बैंक बनाकर जमा कराने के लिए अपील किया है, जिसको कि गोवंश आश्रय में प्रयोग किया जा सकें। पेयजल योजना, आजीविका मिशन, खाद्यय सुरक्षा, नई सड़कों का निर्माण, सेतुओं का निर्माण, नगरीय स्ट्रीट लाइटे, विद्युत विभाग आदि की गहन समीक्षा की। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जो भी योजनाएं सरकार द्वारा चलायी जा रही है, उसका शत-प्रतिशत अनुपालन करना सुनिश्चित करें। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही कत्तई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जमीनी स्तर पर सरकारी योजनाओं का लाभ दिखना चाहिए, जिससे कि पात्र व्यक्तियों को लाभ पहुंचाया जा सके।

Share To:

Post A Comment: