मिशन इंद्रधनुष के तहत शुरू होगा टीकाकरण 

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
      विकास कुमार

जिला टास्क फोर्स की बैठक में दी गयी जानकारी 2 दिसम्बर  से 12 दिसम्बर तक चलाया जाएगा अभियान 

प्रयागराज 25 नवम्बर : संगम सभागार में मिशन इन्द्रधनुष के तहत नियमित प्रतिरक्षण में छूटे हुये गर्भवती माताओं एवं 0 से 2 साल के बच्चों को प्रतिरक्षित करने के उद्देश्य से जिला टास्क फोर्स की बैठक सी.डी.ओ, प्रेम रंजन सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गयी।

.सीडी.ओ, प्रेम रंजन सिंह प्रयागराज ने कहा कि कार्यक्रम को सफल बनाने किए लिए नियमित रूप से समीक्षा करना आवश्यक हैं उन्होंने कहा कि माइक्रोप्लान को कल तक जमा करे ताकि आगे की कार्यवाही को किया जा सके | सी.डी.ओ, ने कहा की कार्यक्रम को सही समीक्षा के लिए आशाओं की मोनेटरिंग करे सांयकालीन बैठक कर दिन भर के कार्यों की समीक्षा से कार्य की प्रगति निश्चित होगी | उन्होंने कहा की माननीय मुख्यमंत्री स्वंय भी इन योजना की समीक्षा करते है तथा दिशानिर्देश देते हैं |उन्होंने टीकाकरण में पीछे चल रहे ब्लाको बहरिया, हंडिया, कोरावं को सुधर के निर्देश दियें | मुख्य चिकित्साधिकारी मेजर डॉ. गिरजा शंकर बाजपेई  ने बताया कि सरकार की प्राथमिकताओं में टीकाकरण को शत प्रतिशत सुनिश्चित कराना शामिल है। 90 प्रतिशत माताओं एवं बच्चों को प्रतिरक्षित करने के लिए सरकार द्वारा समय निर्धारित किया गया है। जिसके लिए आई.एम.आई 2.O किया जा रहा हैं | जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. तीरथ लाल ने  बताया कि मिशन इंद्रधनुष के माध्यम से टीकाकरण में वांक्षित बढ़ोतरी के लिए प्रदेश के जिलो में प्रयागराज को भी शामिल किया गया है। उन्होने बताया कि नियमित प्रतिरक्षण में छूटे हुये गर्भवती महिलाएं एवं 0 से 2 साल तक के बच्चों को प्रतिरक्षित करने के लिए 2 दिसम्बर  से 12 दिसम्बर  तक जिले में मिशन इन्द्रधनुष अभियान चलाया जाएगा। उन्होने कहा कि अभियान को सफ़ल बनाने के लिए संबंधित नोडल कार्ययोजना के अनुरूप कार्य संपादित करते हुये लक्षित गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के प्रतिरक्षण को सुनश्चित करें। प्राप्त आँकड़ों के मुताबिक जिले के जिन ब्लॉक की टीकाकरण में उपलब्धि कम पायी गयी है। इसलिए इस दौरान इन ब्लॉकों की उपलब्धि को बढ़ाने के लिए विशेष ध्यान भी दिया जाए। उनके क्षेत्र से नियमित प्रतिरक्षण में छूये हुये गर्भवती महिलाएं एवं बच्चों का नाम शामिल है या नहीं और उनका टीकाकरण अवश्य कराएँ ।  बैठक में अपर मुख्यचिकित्सा अधिकारी डॉ. सत्येन राय, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राहुल, अपर मुख्यचिकित्सा अधिकारी डॉ. अनिल संथानी, बाल विकास पोष्टाहर विभाग एम.ओ.आई.सी, डी.एच.ओ, डब्लू.एच.ओ यूनिसेफ के लोग  उपस्थित थे।



Share To:

Post A Comment: