बारिश के दिनों हुए कार्यों का सामाजिक अंकेक्षण करने पहुँची टीम 

शिकायत के बाद जिला पंचायत सीईओ ने बनाया है जांच दल,तीन दिनों के भीतर मांगी रिपोर्ट 

कलयुग की कलम (प्रदीप चौरसिया)

कटनी/उमरियापान:- बारिश के सीजन में तालाब निर्माण और सड़क निर्माण कार्य के नाम पर फर्जीवाड़ा कर राशि हड़पने की जांच करने के लिए अलग- अलग टीमें आवंटित  ग्राम पंचायतों में पहुँची। ये तीनों टीमें बीते दो दिनों से बारिश के दिनों में कराए गए कार्यों का सामाजिक अंकेक्षण कर रही रही हैं। कार्यों के मस्टररोल की जांच और गांव में काम करने वाले मजदूरों से मुलाकात कर वास्तविक स्थिति का मुआयना कर रहे हैं।

 बता दें कि बारिश के दिनों चार महीने मिट्टी कार्य में प्रतिबंध होने के बाद भी ढीमरखेड़ा जनपद कि ग्राम पंचायत आमाझाल,खम्हरिया बागरी, गौरा, बरहटा, भमका, सैलारपुर,इटौली, नेगई और खमतरा खम्हरिया ग्राम पंचायतों में तालाब और सड़क निर्माण के नाम फर्जी तरीके से लाखों रूपये की राशि हड़पने की शिकायत मध्यप्रदेश जनजागरण मोर्चा प्रदेश सचिव राजेंद्र खरे और कांग्रेस प्रदेश प्रतिनिधि मुकेश परौहा ने सीएम कमलनाथ, पंचायत मंत्री कमलेश्वर पटेल से लेकर संभागायुक्त,कलेक्टर और जिला व जनपद पंचायत सीईओ से शिकायत करते हुए मामले की जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग किया था। शिकायत के बाद जिला पंचायत सीईओ जगदीशचंद्र गोमे ने मामले की जांच कराने आदेश जारी किया। साथ बारिश के दिनों कराए गए कार्यों का सामाजिक अंकेक्षण कराने टीम अलग- अलग टीमें बनाई है।


Share To:

Post A Comment: