मवेशी को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होकर पलटा ट्रैक्टर, बच्चों सहित पिता नीचे फंसे

सोमवार सुबह उमरियापान- खंदवारा मार्ग पर हुई घटना,तीनों को रैफर किया जिला अस्पताल

कलयुग की कलम (अंकित झारिया)

कटनी/उमरियापान:- बच्चों को ट्रैक्टर में बैठाकर परिवार के दशगात्र कार्यक्रम में शामिल होने गांव जा रहे एक पिता के हाथों मवेशी को बचाने के चक्कर में  ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया।पिता सहित दोनों बच्चे ट्रैक्टर में फंस गए।ग्रामीणों ने तीनों को ट्रैक्टर से बाहर निकाला। तीनों को 108 वाहन एम्बुलेंस से इलाज के लिए उमरियापान अस्पताल पहुँचाया गया। घटना ढीमरखेड़ा थाना क्षेत्र के उमरियापान - खंदवारा मार्ग की है। डॉक्टर ने तीनों के उपचार के बाद पिता सहित बच्चों को जिला मुख्यालय के लिए रेफर किया है।

हासिल जानकारी के मुताबिक ढीमरखेड़ा तहसील के खंदवारा निवासी चन्द्रभान पिता भैयालाल गौंड 36 वर्ष जो बीते कई वर्षों से  उमरियापान थाना क्षेत्र के भसेड़ा गांव में परिवार सहित रहता है। सोमवार सुबह चन्द्रभान सिंह अपने पुत्र शिवराज सिंह( 7) और पुत्री कुमारी आराधना सिंह (5)को ट्रैक्टर से खंदवारा गांव अपने परिवार में आयोजित दशगात्र कार्यक्रम में शामिल होने जा रहा था। खंदवारा गांव के पहले रास्ते में एक मवेशी आ गया। मवेशी को बचाने के चक्कर में चन्द्रभान के हाथों ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर चारों खाने पलट गया। ट्रैक्टर में सवार पिता सहित पुत्र-पुत्री ट्रैक्टर के नीचे फंस गए।राहगीरों ने घटना की जानकारी ग्रामीणों को दिया। ग्रामीणों और राहगीरों ने ट्रैक्टर में फंसे तीनों लोंगो को सुरक्षित बाहर निकाला। तीनों के हाथ, पैर सीने,पेट सहित शरीर के अन्य अंगों में गंभीर चोटें होने से 108 वाहन एम्बुलेंस को जानकारी दिया। एम्बुलेंस से तीनों को इलाज के लिए उमरियापान अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर अजय सोनी ने चन्द्रभान सहित पुत्र शिवराज सिंह और पुत्री आराधना को जिला अस्पताल के लिए रैफर किया है।



Share To:

Post A Comment: