प्रदेश में पंचायत चुनावों की तारीखों का एलान हो गया है| राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर रामसिंह ने तारीखों की घोषणा की है| *पंचायत चुनाव 3 चरणों में होंगे|*

30 दिसंबर को नामांकन दाखिल किए जाएंगे| 30 दिसंबर को ही मतदान केंद्रों की सूची और आरक्षण की स्थिति का प्रकाशन होगा| 6 जनवरी दोपहर 3 बजे तक नामांकन दाखिल किए जा सकेंगे| 7 जनवरी को संवीक्षा होगी, आरओ को संवीक्षा का अधिकार होगा| 9 जनवरी दोपहर 3 बजे तक नाम वापस लिए जा सकेंगे| 9 जनवरी को ही सभी अभ्यर्थियों को चुनाव चिन्ह बांटे जाएंगे|

*मतदान 3 चरणों में होगा| पहला चरण 28 जनवरी, दूसरा चरण 31 जनवरी और तीसरा चरण 3 फरवरी को होगा| सामान्य क्षेत्रों में सुबह 7 बजे से 3 बजे तक और संवेदनशील क्षेत्रों में सुबह 6:45 से 2 बजे तक मतदान होगा| मतगणना की प्रक्रिया मतदान समाप्ति के बाद होगी| निर्वाचन की घोषणा रिटर्निंग ऑफिसर करेगा|*

एक व्यक्ति कई पदों के लिए मतदान कर सकेगा| पंच, सरपंच, जनपद और जिला पंचायत सदस्य के लिए मतदान कर सकेंगे| 1 लाख 60 हजार कर्मचारी मतदान कराएंगे| 

50 हजार लोग मतदान दलों से अलग व्यवस्था में शामिल रहेंगे|

 *निक्षेप राशि की दरों में वृद्धि कर दी गई है| पंच के लिए 50, सरपंच के लिए 1000 रुपए धरोहर राशि होगी| इससे सिर्फ गंभीर प्रत्याशी ही चुनाव लड़ने सामने आएंगे|*

*11664 सरपंच पदों के लिए पंचायतों में चुनाव होंगे| एक लाख साठ हजार 725 पंच पदों के लिए चुनाव होगा| 1 करोड़ 44 लाख 68 हजार 763 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे| लगभग 6 करोड़ मतपत्रों का प्रकाशन किया जाएगा|*

 मतपत्रों का रंग पहले की ही तरह रहेगा| पंचायत का चुनाव जनवरी 2020 में होना है| गैर दलीय आधार पर पंचायत चुनाव होंगे| मतपत्र में फोटो और नोटा का विकल्प नहीं होगा| निर्वाचन मतपत्र और मतपेटी के आधार पर ही होगा|

कोई भी व्यय की सीमा पंचायत चुनाव में नहीं होगा* अभ्यर्थियों का साक्षर होना आवश्यक होगा|* पूरे प्रदेश में 1500 कलस्टर बनाया गया है| बड़े पंचायतों में नामांकन की सुविधा दी जाएगी|


सरगुजा संभाग राजेश सिन्हा की खास रिपोर्ट

Share To:

Post A Comment: