सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जसरा में स्वास्थ्य वृहद मानसिक शिविर 


KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
   . विकास कुमार

प्रयागराज जसरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगा वृहद मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता एवं प्रमाणीकरण शिविर

शिविर में मौके पर जारी किये  5 मानसिक दिव्यांगता प्रमाणपत्र किये गए जारी

प्रयागराज 10 दिसंबर 2019 : जनपद में लगातार मानसिक विकारो की जागरूकता हेतु कार्यक्रम किये जा रहे हैं इसी क्रमबद्ध में जिला मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम प्रयागराज द्वारा जसरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता एवं दिव्यांगता प्रमाणीकरण शिविर का आयोजन किया गया| | गावं के अंतिम छोर तक स्वास्थ्य सुविधा पहुंचे तथा लक्षित व्यक्ति को लाभ मिलने के उद्देश्य से शिविर का आयोजन ब्लाक स्तर पर किया गया |
शिविर के मुख्य अतिथि डॉ वीके मिश्रा नोडल अधिकारी एनसीडी सेल व अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी रहे| जिन्होंने शिविर में आए लोगो के बीच दिव्यांग का प्रमाणीकरण का वितरण किया एवं इस प्रमाण पत्र द्वारा सरकार की योजनाओं के अंतर्गत दिए जा रहे सुविधाओं के बारे में विस्तार से बताया ब्लाक के लोगों को आसानी से दिव्यांगता प्रमाण पत्र उपलब्ध हो इसलिए शिविर का आयोजन करवाया गया है ताकि मानसिक दिव्यांग लोगों को इसका लाभ मिल सके|
डॉ. इशान्य राज नैदानिक मनोवैज्ञानिक ने बताया कि मानसिक विकार के लक्षण जैसे बैचैनी, दुचिंता, उदासी, नींद न आना, बड़ी बड़ी बातें करना कानों में आवाजे आना, भूत प्रेत दिखाई देना आदि हैं |
मानसिक विकारो के इलाज के लिए मेडिसीन, मनोचिकित्सा पद्धिति (साईको थेरपी, फैमिली थेरपी द्वारा किया जाता हैं जिसका मुफ्त इलाज काल्विन अस्पताल कमरा नंबर 13 में सोमवार,बुधवार,तथा शुक्रवार को 8 से 2 बजे तक किया जाता हैं | कार्यक्रम के अंतर्गत (2017 से 2018) में लगभग 1100 लोगो के मानसिक दिव्यंगता प्रमाणपत्र दिए गए हैं|
शिविर में आये अमरनाथ ने अपनी पुत्री की समस्याओं को बताया कि उनकी पुत्री अंजलि को जन्म से बेहोश हो जाने और शरीर में कंपन होने की समस्या है तथा वह बातों को कम समझती है|  जिसके उपरांत बच्ची के मानसिक परिक्षण तथा जाँच के बाद यह पता चला कि उसकी बच्ची को मिर्गी रोग है साथ ही मंदबुद्धि की समस्या भी है| जिसके बाद उन्हें आगे इलाज के लिए व निशुल्क दवाइयों के लिए जिला अस्पताल बुलाया गया है साथ ही बच्ची का ऑन स्पोर्ट मंदबुद्धि हेतु दिव्यांगता प्रमाण पत्र दिया गया|
 पानकली की माता भी अपनी मंदबुद्धि बच्ची से उम्मीद हार चुकी थी पर कैंप में आने के बाद प्रमाण पत्र प्राप्त कर व सरकारी योजनाओं के बारे में जानकर उसमें  सहायता की उम्मीद जागी |
 मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम से जय शंकर पटेल मनोचिकित्सा सामाजिक कार्यकर्ता ने लोगों को मानसिक रोग उसके विभिन्न कारण प्रकार उपायों के बारे में बताया | नैदानिक मनोवैज्ञानिक ईशान्या राज ने  मानसिक परेशानी से ग्रस्त 12 रोगियों की बुद्धि परीक्षण व  5 लोगों को ऑन स्पोर्ट प्रमाणपत्र देकर बाकि के रोगियों को जिला अस्पताल रेफर किया | शैलेश कुमार साइकियाट्रिक नर्स ने निशुल्क दवाइयों का वितरण किया| संजय तिवारी ने कम्युनिटी में होने वाले योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया| शिविर का संचालन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अध्यक्ष अधीक्षक डॉ तरुण पाठक ने किया|

Share To:

Post A Comment: