दिव्य और भव्य कुंभ की दिव्यता और भव्यता की कायल हुई पूरी दुनिया

KKK न्यूज़ रिपोर्टर
          नैनी
      सुभाष चंद्र

 32 हेक्टेयर जमीन में बसाया गया था मेला क्षेत्र

 प्रयागराज कुंभ 2019 को दिव्य और भव्य बनाने में केंद्र और प्रदेश सरकार ने कोई कोर कसर नहीं छोड़ी पूरा मेला 32 हेक्टेयर में बताया गया ऐसा लग रहा था की जैसे छोटी सी जगह में पूरी दुनिया सिमट गई हो।

पहली बार हुई कैबिनेट बैठक

मेला क्षेत्र में उत्तर प्रदेश शासन में पहली बार कैबिनेट की बैठक की और प्रदेश भर के विकास योजनाओं पर अहम चर्चा हुई यह बैठक 29 जनवरी को हुई थी इसके बाद कैबिनेट के सभी मंत्रियों ने संगम में डुबकी लगाई थी
3) ऐसे बढ़ती गई कुंभ मेले की भव्यता

 कुंभ मेले की औपचारिक शुरुआत से पहले 15 दिसंबर 2018 को 70 देशों के राजनयिक प्रयागराज आए थे उन्होंने कुंभ की प्री पिक्चर देखी और अरैल क्षेत्र में अपने देश के झंडे फहराए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 दिसंबर को कुंभ की सफलता के लिए संगम पर पूजन किया राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी स्वजन समेत प्रयागराज आएं उन्होंने पूजा के बाद गंगा स्नान भी किया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 5 और 10 जनवरी को आए उन्होंने कुंभ की तैयारियों  को  परखा प्रवासी भारतीय भी 24 जनवरी को प्रयागराज आएं  मारीशस के प्रधानमंत्री प्रविद कुमार जुग नाथ भी कुंभ मेला देखने पहुंचे

पहली बार प्रकाश में आया किन्नर अखाड़ा

किन्नरों का सपना समाज होता है पर किन्नर संन्यासियों का अखाड़ा भी बन सकता है ऐसे लोगों ने कुंभ में पहली बार जाना किन्नर अखाड़ा का जूना अखाड़ा में 12 जनवरी को विलय हुआ आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने अपने नेतृत्व में भव्य शिविर लगवाया अखाड़ा ने सबसे अधिक रुतबा भी बटोरा देवत्व यात्रा से शुरू हुआ किन्नर अखाड़ा का सफर सेक्टर 12 में सबसे अधिक श्रद्धालुओं को अपनी ओर आकर्षित किया।



Share To:

Post A Comment: