राज्य महिला आयोग की सदस्य महिलाओ की सुनी समस्यायें   

KKK न्यूज ब्यूरो रिपोर्टर
        उत्तर प्रदेश
     विकास  कुमार

उ.प्र. राज्य महिला आयोग की  सदस्य ने सुनी पीड़ित महिलाओं की समस्यायें

जनसुनवाई के लिए आयें 22 प्रकरणों में से 4 प्रकरणों का मौके पर किया गया निस्तारण
महिलाओं की शिकायतों को पुलिस थानों द्वारा गम्भीरता से न लेने पर  सदस्य ने कड़ी नाराजगी जतायी
01 जनवरी, 2020 प्रयागराज।
सदस्य, उ.प्र. राज्य महिला आयोग  अनीता सिंह ने सर्किट हाऊस में पीड़ित महिलाओं की समस्यायें सुनी। जनसुनवाई में दहेज उत्पीड़न, भूमि कब्जे से सम्बन्धित प्रकरण, छेड़खानी एवं अन्य मामले सुनवाई के लिए सदस्य के समक्ष आये। महिला जनसुनवाई में कुल 22 मामले सुनवाई के लिए आये, जिनमें से 4 मामलों का मौके पर निस्तारण सुनिश्चित किया साथ ही शेष मामलों पर कार्यवाही के लिए सम्बन्धित अधिकारियों के पास भेजा गया। सदस्य ने सभी प्रकरणों को गम्भीरता के साथ सुनते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि महिलाओं की शिकायतो को पूरी गम्भीरता से लिया जाय, इसमें किसी प्रकार की शिथिलता बिल्कुल भी बर्दाश्त नही की जायेगी।
जनसुनवाई में आयी हुई गुड्डी निशाद पत्नी लवकुश निषाद धूमनगंज, प्रयागराज ने जबरन मकान के कब्जा करने की शिकायत की, जिसपर महिला आयोग की  सदस्य ने सम्बन्धित थाने के अधिकारियों को मामले में आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। बिनीता केसरवानी पत्नी मनोज केसरवानी ट्रांसपोर्टनगर, प्रयागराज ने अपने ससुराल वालो के खिलाफ दहेज के लिए परेशान करने की शिकायत की, जिसपर  सदस्य ने सम्बन्धित थाना प्रभारी को मामले में कार्यवाही करने के निर्देश दिए, जिससे महिला को न्याय मिल सके। इसी प्रकार एक अन्य मामले में मंतशा पत्नी सुहेल ने दहेज मांगने की शिकायत की व अपने पति पर दूसरी शादी करने का आरोप लगाया, जिसपर पुलिस द्वारा कार्यवाही न करने एवं मामले में हीला-हवाली करने पर महिला आयोग की  सदस्य ने कड़ी नाराजगी जताते हुए सम्बंधित थाना प्रभारी को निर्देश दिया कि तत्काल प्रभाव से इस मामले का निपटारा किया जाए और कहा कि महिलाओं की शिकायत को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित किया जाये। रंजना दास पुत्री स्व0 सुनील कुमार दास बक्शी कला दारागंज ने घर में कब्जा दिलाने व धोखा धड़ी की शिकायत की, जिसपर महिला आयोग की सदस्य ने दोनों पक्षों को जनसुनवाई में उपस्थित होने को कहा था। दोनों पक्षों की उपस्थिति में ही महिला आयोग की सदस्य ने आपस में मिलकर मामले को सुलझाने को कहा और खुद भी दोनों पक्षों को समझाते हुए प्रकरण में दोनों पक्षों में समझौता कराने में सफल रही व महिला को मौके पर ही न्याय दिलाया। 
 सदस्य, महिला आयोग ने कहा कि महिलायें अपने अधिकारों के प्रति जागरूक है। महिला आयोग का गठन पीड़ित महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए ही हुआ है। यदि किसी महिला को न्याय मिलने में कोई परेशानी आ रही है तो वे अपनी समस्या को लेकर महिला जनसुनवाई में जरूर आये। जनसुनवाई में पीड़ित महिलाओं की पूरी सहायता की जायेगी।  सदस्य ने जनसुनवाई में आयी हुई शिकायतों के प्रगति की रिपोर्ट हमें 15 दिन के अंदर अवगत करायें साथ ही राज्य महिला आयोग से जो भी पत्र आपके थानों में आते हैं, उसका जवाब लेकर ही जनसुनवाई में आये।
जनसुनवाई के उपरांत महिलाओं की सुरक्षा और स्वच्छता सम्बन्धित शिकायत पर  सदस्य ने कोरांव तहसील के वैदवार कला गांव का निरीक्षण किया। वहां पहुंचकर उन्होंने महिलाओं की समस्याओं को सुना एवं सम्बन्धित अधिकारियों को महिलाओं के सुरक्षा के प्रति सचेत रहने को कहा। साथ ही महिलाओं की शिकायत को गम्भीरता के साथ सुनते हुए त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए।
नियमों का पालन सुनिश्चित कराने के उपरांत ही समस्त क्लीनिक, नर्सिंग होम एवं अस्पताल संचालकों का नवीनीकरण पंजीकरण किया जायेगा
मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्रयागराज ने बताया है कि समस्त क्लीनिक नर्सिंग होम एवं अस्पताल संचालकों को राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण एवं प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के निर्देश के क्रम में निर्दिष्ट किया जाता है कि दिनांक 31 दिसम्बर, 2019 के उपरांत उन्हीं नर्सिंग होमों, अस्पतालों एवं क्लीनिकों का पंजीकरण एवं नवीनीकरण किया जाएगा जो ई0टी0पी0 इफ्ल्यूएण्ट ट्रीटमेंट प्लाण्ट सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट यदि सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट नगर निगम का है तो केवल ई0टी0पी0 स्थापित होने पर बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट रूल्स 2016 के क्रम में। क्षय रोगियों की मासिक रिपोर्ट 01 जनवरी, 2019 से 31 दिसम्बर, 2019 तक की रिपोर्ट, प्रसव सामान्य सिजेरियन की मासिक रिपोर्ट 01 जनवरी, 2019 से 31 दिसम्बर, 2019 तक की रिपोर्ट, टीकाकरण की मासिक रिपोर्ट कार्यालय के ई-मेल आई0डी0 बउवंसक हउंपसण्बवउ पर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।
उपरोक्त नियमों का पालन सुनिश्चित कराने के उपरांत ही नवीनीकरण पंजीकरण किया जायेगा
71 बिन्दुओं से सम्बन्धित विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों योजनाओं एवं अन्य विकास कार्यों की समीक्षा बैठक 03 जनवरी को
मुख्य विकास अधिकारी प्रयागराज प्रेम रंजन सिंह ने बताया है कि जिलाधिकारी की अध्यक्षता में 71 बिन्दुओं से सम्बन्धित विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों योजनाओं एवं अन्य विकास कार्यों की समीक्षा बैठक दिनांक 03 जनवरी, 2020 को प्रातः 10ः00 बजे संगम सभागार में आयोजित की गयी है।


Share To:

Post A Comment: