“ज़िला योजना की मीटिंग में समस्त चर्चा करने के बाद आज रेसीडेंसी में  बिना वजह बैठक की नौटंकी करके ज़िले के ज़िम्मेदार अधिकारियों का समय ख़राब किया”

केंद्र सरकार की योजना की जानकारी लेने के बजाय सांसद बनने के बाद सांसद निधि से क्या जनहित के कार्य किए गये..? ये बताये सांसद शंकर लालवानी।

सांसद बनने के बाद एक भी कार्य जनता के लिए सांसद निधि से किया हैं तो जनता को बताये सांसद शंकर लालवानी.

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने भाजपा के सांसद शंकर लालवानी पर आरोप लगाया हैं की सांसद बनने के बाद भी अभी तक नगरनिगम की सभापति की भूमिका से बाहर नहीं निकल सके हैं।

इन्दौर की जनता ने सांसद बनाकर इन्दौर की तरक़्क़ी के लिए संसद में आवाज़ उठाने वाला सांसद चुना था लेकिन सांसद शंकर लालवानी की अभी तक की उपलब्धि में संसद में सेल्फ़ी खींचकर मथुरा सांसद हेमामालिनी की तस्वीर लेना ही एक मात्र उपलब्धि हैं।पिछले आठ माह के सांसद कार्यकाल में ज़ीरो उपलब्धि हैं।इसके पश्चात भी ज़िले के अधिकारियों को प्रभाव में लेने की नाकाम कोशिश करके बिना मतलब की मीटिंग आयोजित करके टाइमपास कर रहे हैं।केंद्र सरकार ने करोड़ों की राशि म.प्र. के हक़ की रोक रखी हैं,इसके लिए आवाज़ ही नहीं निकलती हैं सांसद की।किसानों के लिए यूरिया केंद्र द्वारा समय पर नहीं देने के विषय पर भी सांसद ने मौन धारण कर रखा था।रीगल टॉकिज के लिए पत्र लिखने का समय हैं लेकिन मूलभूत जनता की तकलीफ़ों एंव ज़रूरतों के लिए समय नहीं हैं।

इन्दौर का दुर्भाग्य हैं की पुन:इन्दौर को निष्क्रिय सांसद मिला हैं ।आज भी इन्दौर की आवाज़ सांसद में ख़ामोश हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व इन्दौर के सांसद के लिए प्रक्षिक्षण शिविर का आयोजन करे जिससे की इन्दौर की ज़रूरतों पर सांसद संसद में इन्दौर का पक्ष रख सके।


राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल
Share To:

Post A Comment: