भोपाल। भारतीय जनता पार्टी में बड़े बदलाव के संकेत मिले है। संघ की इंदौर में चल रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक चल रही है। बैठक में संघ नेताओं ने देश भर में भाजपा राज्य प्रभारियों की भूमिका पर चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक लोकसभा चुनाव के एक साल बाद भाजपा में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। प्रदेश के प्रभारियों को बदला जाएगा। इनमें  मध्यप्रदेश भी शामिल है। इसके अलावा दिल्ली, बिहार और पश्चिम बंगाल चुनाव पर भी बैठक में चर्चा की गई।

संघ की पांच दिनी बैठक इन दिनों इंदौर में चल रही है। बैठक में हिस्सा लेने भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष सोमवार रात इंदौर पहुंचे थे। संतोष ने पहले संघ के कोर नेताओं से चर्चा की। इसके बाद उनकी संघ प्रमुाख मोहन भागवत के साथ एकांत में चर्चा हुई। इस बैठक में तय किया गया कि संघ भाजपा को संगठनात्मक कार्यो के लिए कुछ और पूर्णकालिक देगा। 

गौरतलब है कि भाजपा के राष्ट्रीय, राज्य और संभागस्तर पर काम करने वाले संगठन महामंत्री संघ से ही आते हैं। इसके अलावा बैठक में उन राज्यों के भाजपा प्रभारियों को भी बदलने पर विचार किया गया जो तीन साल से प्रभारी हैं। इनमें कांग्रेस शासित राज्यों के प्रभारियों पर खासतौर से बात हुई। माना जा रहा है कि अब आने वाले दिनों में भाजपा अपने राज्यों के प्रभारियों में फेरबदल कर सकती है। यह फेरबदल राज्यसभा चुनावों के बाद करने की संभावना जताई जा रही है। मध्यप्रदेश में भाजपा के प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे हैं, अब उन्हें किसी अन्य राज्य की जिम्मेदारी दी जा सकती है। 

Share To:

Post A Comment: