“भाजपा ने नागरिकता क़ानून के समर्थन के लिए सारी मर्यादाओं की धज्जियाँ उढ़ाई”

“देश के पीएम फ़र्ज़ी एंव बोगस दावे ट्विटर पर करने वालों को फ़ॉलो कर रहे”

“देश की विडम्बना है”

“मिस्ड कॉल नम्बर पर नागरिकता क़ानून के समर्थन के लिए झुठ का छलावा “

“देश में क़ानून बनाने वाले क़ानून को सही साबित करने के लिए फ़र्ज़ी ऑंफर से समर्थन मॉंग रहे”

“नेटफिलिक्स ने बयान जारी करके स्पष्ट किया है कि ऑफ़र नहीं हैं इस नम्बर पर”विदेशों में भारत को शर्मसार किया हैं भाजपा ने”

म.प्र. कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने सबूतों सहित आरोप लगाया हैं की भाजपा देश को धोखा देकर फ़र्ज़ी समर्थन नागरिकता क़ानून पर जुटाने की नाकामयाब कोशिश कर रही हैं।

भाजपा की संस्कार और सभ्यता का प्रदर्शन ट्यूटर एंव फ़ेसबुक पर लगातार हो रहा हैं ये भाजपा के संस्कार देश को शर्मसार करने वाले हैं।

नागरिकता क़ानून के समर्थन के लिए भाजपा के अध्यक्ष ने एक मिस्ड कॉल नम्बर जारी किया हैं लेकिन जनता का समर्थन नहीं मिलने के कारण भाजपा का डर्टी आईटी सेल देश को शर्मसार करने पद्धति को अपनाकर समर्थन जुटाने की कोशिश कर रहा हैं।भाजपा के जारी किए नम्बर पर कॉल करने के लिए वाउचर छूट,डॉटा प्लान,लड़कियों से बात के ऑफ़र,नौकरी के लिए,डिप्रेशन से बाहर आने के लिए,सनीलीयोनी से बात करने के लिए,वेलेण्टाइन डे डिनर के लिए,ईनाम के लिए आदि अनेक तरह के ऑफ़र इस नम्बर पर मिस्ड कॉल करने के लिए दिये जा रहे हैं।देश को शर्मसार करने की स्थिति में भाजपा की डर्टी पोलिटिक्स ने लाकर खड़ा कर दिया हैं।

आज़ादी के बाद पहली बार हैं की क़ानून बनाने के बाद समर्थन मॉंगना जा रहा हैं आज तक क़ानून का विरोध देखा था लेकिन लालच के ऑफरो के साथ समर्थन मॉंगना देश के लोकतंत्र की हत्या करना हैं।

घोर आश्चर्य इस बात का हैं की देश के प्रधानमंत्री मोदी जी एंव गृहमंत्री अमित शाह जी ऐसे फ़र्ज़ी ऑफरो को बताने वाले ट्यूटर एकाउन्ट को फ़ॉलो करके लोकतंत्र को शर्मसार करने के साथ ही देश में क़ानून की विश्वसनीयता पर प्रश्न चिंह लगा रहे हैं।

भाजपा द्वारा झुठ एंव भ्रम फैलाकर फ़र्ज़ी समर्थन नागरिकता क़ानून के लिए जुटाने की साज़िश के ख़िलाफ़ एसएसपी के माध्यम से सायबर क्राइम में शिकायत दर्ज करायी गयी हैं।इस सायबर फ़्रॉड में सख़्त कार्यवाही की मॉंग की हैं।

राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल













Share To:

Post A Comment: