भाजपा के दलित लाखन एंव श्रेष्ठा जोशी के विवाद में लापता लाखन सिंह पहुँचा आईजी ऑंफिस उज्जैन ऐट्रोसिटी एक्ट में शिकायत ।कॉंग्रेस प्रदेशसचिव ने भी जारी की शिकायत की कापी।

भाजपा के दलित विरोधी कॉंड में बढ़ा खुलासा:-

“मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के संज्ञान में दलित अपमान का मामला सामने आने पर लापता भाजपा का मंडल उपाध्यक्ष दलित लखन सिंह चौहान निडरता से सामने आया”

“भाजपा का दलित विरोधी चेहरा बेनक़ाब भाजपा के बाहुबली नेताओं ने जान से मारने की धमकी दी”

“उज्जैन में आज दर्ज करायी दलित भाजपा मंडल उपाध्यक्ष ने महिला मोर्चे की प्रदेशमंत्री श्रेष्ठा जोशी एंव अन्य के ख़िलाफ ऐट्रो सिटीएक्ट के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज करने की शिकायत “

“भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एंव पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान आज उज्जैन में दलित पदाधिकारी के साथ खड़े रहकर समर्थन दें अन्यथा भाजपा को दलित विरोधी पार्टी घोषित करे”

“महाकाल के रास्ते को लेकर धर्म की राजनीति एंव रासुका में निरुद्ध असामाजिक तत्व के लिए प्रदर्शन करने शिवराज सिंह चौहान एंव भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आ रहे हैं लेकिन भाजपा के ही दलित मंडल पदाधिकारी  को न्याय नहीं दिला सके।ये कैसा भाजपा का चाल-चरित्र-चेहरा हैं..?”

“मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने दिया पूर्ण आश्वासन दलित पदाधिकारी सुरक्षित रहेगा तथा क़ानून अपना काम करेगा”

भाजपा में न्याय नहीं मिलेगा लेकिन कॉंग्रेस सरकार में दलित को न्याय मिलेगा ऐसे मुख्यमंत्री हैं कमलनाथ जी जो पार्टी देखकर कार्य नहीं करते हैं दलित के ख़िलाफ़ अन्याय को देख कर निर्णय लेते हैं चाहे वो भाजपा का दलित मंडल पदाधिकारी ही क्यों न हो।

म.प्र. कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने भाजपा की दलित विरोधी घटना की संपूर्ण जानकारी माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी को दी थी।माननीय मुख्यमंत्री ने दलितों की सुरक्षा एंव सम्मान की सुरक्षा करना कॉंग्रेस सरकार का प्रथम कर्तव्य बताया हैं।

भाजपा का मंडल उपाध्यक्ष आठ दिन से लापता था लेकिन माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी का दलितों के प्रति संत रविदास जयंती पर सागर में सम्मान एंव समर्पण देखकर भाजपा में हो रहे दलितों के शोषण के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाने की ठानकर आज यह भाजपा का मंडल उपाध्यक्ष दलितों के सम्मान की रक्षा के लिए दलितों को अपमानित करने वाली महिला मोर्चे की प्रदेशमंत्री श्रेष्ठा जोशी के ख़िलाफ़ सभी सबूतों सहित उज्जैन आईजी के समक्ष एट्रोसिटी एक्ट में शिकायत दर्ज करायी गई हैं ।इस शिकायत में यह भी स्पष्ट हैं की मंडल पदाधिकारी को जान से मारने का ख़तरा हैं।जान-माल की सुरक्षा हेतु पुलिस से सुरक्षा मॉंगी गई हैं।

माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी की दलितों के प्रति गंभीरता देखते हुए दलितों के हित में उठाये गये कदमों की वजह से आज भाजपा में शोषण के ख़िलाफ़ दलित लाखन सिंह चौहान खड़ा होकर भाजपा को आईना दिखा रहा हैं।लेकिन भाजपा का एक भी नेता दलितों के पक्ष में नहीं बोल रहा हैं।इससे ये तो स्पष्ट होता हैं की भाजपा दलित विरोधी पार्टी हैं।

उज्जैन में आज मौजूद शिवराज सिंह चौहान एंव भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को दलितों से माफी मॉगना चाहिए तथा दलित लाखन के साथ उपस्थित रहकर पुलिस में एट्रो सिटीएक्ट में प्रकरण दर्ज कराना चाहिए।लेकिन भाजपा ऐसा नहीं करेगाी क्योंकि भाजपा में सिर्फ़ दलितों का उपयोग चुनाव जीतने के लिए किया जाता हैं इसके बाद उनकी हो रही दुर्गति की तरफ़ देखना भी उचित नहीं समझती हैं भाजपा।

उपरोक्त प्रकरण में यह माँग की जाती हैं की उज्जैन आईजी तत्काल प्रकरण दर्ज करके दोषियों की गिरफ़्तारी एट्रो सिटीएक्ट में करना चाहिए ।जिससे की दलित समाज को न्याय मिल सके एंव सम्मान क़ायम रह सके।

राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल











Share To:

Post A Comment: