आदर्श गांव केवल ईट गारे से नहीं सामाजिक सरोकार के साथ ही बनता  सांसद

KKK न्यूज रिपोर्टर
          नैनी
     सुभाष चंद्र

आदर्श गांव तभी बनेगा जब हम आदर्श भाईचारा आपसी सहयोग तथा एक दूसरे की लिए परस्पर सेवा भाव भी रखेंगे रीता बहुगुणा जोशी

आदर्श गांव बनाने में सरकार के साथ जनसरोकार होने पर ही असली आदर्श गांव बन सकता -डॉ जोशी

आदर्श गांव केवल ईट गारे से नहीं सामाजिक सरोकार से भी बनता है -सांसद प्रयागराज

प्रयागराज  सरकार द्वारा चलाई जा रही हर योजना के साथ गांव को एक आदर्श गांव बनाना है | हम हर सुख दुख में आपके साथ हैं विकास की कड़ी में आप भी हमारे साथ जुड़िए उक्त बातें सांसद डॉ रीता बहुगुणा जोशी ने बारा विधानसभा के पांडर गांव में अपने गोद लिए हुए गांव के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में उपस्थित ग्रामवासी व अधिकारियों को संबोधित करते हुए कही |

डॉ रीता बहुगुणा जोशी ने सोमवार को अपने गोद लिए हुए गांव पांडर का दौरा किया ।उन्होंने गांव की गलियों को जहां बारीकी से देखा वहीं पर आंगनबाड़ी केंद्र पर नवजात बच्चे का अपने हाथों से अन्नप्राशन भी कराया तथा आंगनबाड़ी में ही गोद भराई के कार्यक्रम में भी शिरकत किया | इस मौके पर सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने स्वास्थ्य,बिजली,पीएम आवास,शौचालय ,पशु आश्रय स्थल, हैंडपंप,नहर विभाग आदि के अधिकारियों से गांव में कराए गए कार्यों का पूरा लेखा-जोखा लिया और भविष्य में होने वाले प्रस्तावित कार्यों को जनता के बीच रखा तथा उन्होंने यह भी कहा कि गांव के विकास में जहां भी किसी तरह की कोई समस्या आती है तो हमें तुरंत बताया जाए मैं सीधे मुख्यमंत्री से मिलकर के गांव के विकास के लिए संसाधन उपलब्ध कराने का प्रयास करूंगी।

डॉ रीता बहुगुणा जोशी ने पांडर गांव के विद्यालय में छात्रों के रजिस्ट्रेशन पर काफी नाखुश दिखी उन्हें जब जानकारी दी गई कक्षा 1 से 5 के मध्य पूरे स्कूल में केवल 70 बच्चे का ही रजिस्ट्रेशन है तथा इसमें केवल 3 शिक्षिकाएं भी नियुक्त है। उन्होंने गांव के लोगों से विद्यालय में अपने घर के बच्चों को भेजने की अपील किया तथा अध्यापकों से भी गांव में संपर्क करके बच्चों की संख्या बढ़ाए जाने की बात कही।उन्होंने यह भी कहा कि जल्द ही पांडर को जल जीवन मिशन से जोड़ दिया जाएगा जिसमें आने वाले खर्च के 10% गांव के लोगों की हिस्सेदारी में होगा। मौके पर मौजूद बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा 25 खंबे और ट्रांसफार्मर तत्काल उपलब्ध कराए जाने की बात कही।

सांसद ने गांव के लोगों को बताया कि सप्ताह में एक दिन मेरा प्रतिनिधि गांव में लोगों से संपर्क करेंगे तथा मैं भी माह में एक दिन पांडर जरूर आऊंगी।उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि आपस के संघर्ष से विकास रुकेगा। मैं भी गांव में जाति दल और धर्म से ऊपर उठकर विकास का पथ मजबूती के साथ आगे बढ़ाने का प्रयास करूंगी। बारह माह में गांव को उत्कृष्ट आदर्श गांव में शामिल करना है जो जनपद में आदर्श गांव कराने का हमसब को मिलकर बनाना है। उन्होंने यह भी कहा कि आदर्श गांव केवल ईट गारे से नहीं सामाजिक सरोकार से भी बनता है । जहां सड़क नाली बिजली का जाल बिछाना हमारी जिम्मेदारी है वहीं पर गांव को अपराध मुक्त करके आपसी भाईचारा और सौहार्द्र से गांव को नंबर एक बनाने की जिम्मेदारी गांव के लोगों की है।महिला समूहों को लेकर नियमित तरीके से संचालित न होने पर सांसद ने गहरी नाराजगी व्यक्त किया।

इस मौके पर उप जिलाधिकारी बारा तथा खंड विकास अधिकारी,जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी के साथ हर विभाग के कर्मचारी गण भी मौजूद रहे। ग्राम विकास अधिकारी ने एक एक विभाग के कर्मचारियों से विकास का अलग-अलग ब्यौरा का संकलन किया गया।ग्राम प्रधान श्रीमती आस्था त्रिपाठी ने सांसद का पांडर गांव के गोद लिए जाने के लिए महिलाओं के समूह के साथ स्वागत भी किया। संचालन रामानंद त्रिपाठी ने किया।

इस मौके पर मुख्य रूप से डॉ शशिकांत तिवारी , संत प्रसाद पांडे ,गया प्रसाद त्रिपाठी, आनंद जायसवाल, राजेंद्र मिश्रा ,चंद्र प्रकाश त्रिपाठी,पूर्व जिला मीडिया प्रभारी दिनेश तिवारी, जिला मंत्री भाजपा कमलेश त्रिपाठी, जिला कोषाध्यक्ष अनूप केसरवानी,बाबा तिवारी, सुबोध जायसवाल ,पंडित राम प्रभाकर मिश्र ,आसाराम शुक्ला,सचिन श्रीवास्तव,बच्चा मालवीय, निधीश पाठक, मलेश त्रिपाठी, नीरज केसरवानी, आकाश केसरवानी आदि लोग उपस्थित रहे।

Share To:

Post A Comment: