जीआरएस ने सचिव को दिया प्रभार तो सरपंच पति ने छुड़ा लिया जीआरएस का मोबाइल 

गड़बड़ी करने की आशंका पर जीआरएस ने जिला सीईओ से किया शिकायत

कलयुग की कलम (महेंद्र सिंह पटेल)

 कटनी/ ढीमरखेड़ा :- ग्राम रोजगार सहायक द्वारा सचिव को प्रभार देने पर सरपंच पति ने जीआरएस का मोबाइल छुड़ा लिया है। पंचायती कार्यों में गड़बड़ी करने और डीएससी का दुरूपयोग कर भुगतान निकाले जाने की आशंका होने पर ग्राम रोजगार सहायक ने जिला पंचायत सीईओ से शिकायत किया है।

जिर्री ग्राम रोजगार सहायक शिवपाल सिंह ने जिला पंचायत सीईओ जगदीश चंद्र गोमे को दी शिकायत पर बताया कि ग्राम पंचायत में सचिव न होने की स्थिति पर वह सचिव के प्रभार में रहा। पोर्टल से डीएससी अपडेट कराने के लिए वह जनपद के  ऑपरेटर को दिया। जिसकी डीएससी अप्राप्त है। इस दौरान निर्माण कार्यों के नाम पर जो भी बिल भुगतान के ईपीओ हुए हैं। जिसके बिल बाउचर भी अप्राप्त है। जिला और जनपद सीईओ के आदेश पर जीआरएस शिवपाल सिंह ने बीते 14 फरवरी को सचिव संदीप अग्रहरि को प्रभार सौप दिया। पोर्टल से पंजीकृत मोबाइल नंबर हटाने 17 फरवरी को मोबाइल लेकर जनपद बुलाया गया। इस दौरान सरपंच पति राजेश असाटी ने जीआरएस का मोबाइल छुड़ा लिया। जो कि अभी वापस नही लौटाया है। जीआरएस ने कहा कि इस दौरान मेरे डीएससी और मोबाइल नंबर से किसी भी प्रकार का भुगतान किया जाता है,इसके लिए सरपंच पति सम्पूर्ण जिम्मेदार होगा।इस संबंध में सरपंच पति राजेश असाटी का कहना है कि मैंने मोबाइल दे दिया है। जो भी शिकायत की गई है वह झूठी है। 

इनका कहना है:-  इस संबंध में मुझे जानकारी नहीं है। मेरे न होने जीआरएस ने शिकायत की होगी। यदि सरपंच पति ने मोबाइल छुड़ाया है तो जीआरएस को थाने में एफआईआर दर्ज करानी चाहिए।:- जगदीश चंद्र गोमे ,जिला सीईओ

Share To:

Post A Comment: