बीजेपी का न्यायपालिका पर दखल दुर्भाग्यपूर्ण

 रीवा /भाजपा  नेताओं  द्वारा दिए गए दंगाई बयानों को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट के  जस्टिस मुरलीधर कि सख्त टिप्पणी एवं भाजपा नेताओं के विरुद्ध एफ आई आर का आदेश किए जाने को लेकर   भड़के भाजपा नेताओं ने राष्ट्रपति पर दबाव बनाकर जिस तरह से न्यायपालिका पर अवैधानिक दखल देकर लोकतंत्र एवं संविधान को कटघरे में खड़ा किया है बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है आज भाजपा एवं आर एस एस ने   मिलकर देश को धार्मिक अखाड़ा  बना दिया है जिसके चलते आज देश जल रहा है श्री सिंह ने मुख्य न्यायाधीश  सुप्रीम कोर्ट एवं सभी कॉलेजियम के सदस्यों एवं सुप्रीम कोर्ट सहित देश के सभी  न्यायमूर्तिगण से मांग करते हुए कहा कि  अपने देश भारत को बचाने अग्रणी भूमिका अदा  करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस मुरलीधर के स्थानांतरण पर रोक लगाए जाने की पहल करें l

                     

       शिव सिंह एडवोकेट

Share To:

Post A Comment: