जिलास्तरीय कैरियर अवसर मेले के शुभारंभ में बोले कलेक्टर, स्वरोजगार की योजनाओं में भी है उद्यमी बनने का अवसर

कलयुग की कलम ग्रामीण रिपोर्टर कटनी :-

कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने कहा कि शिक्षित युवाओं को अपना कैरियर बनाने के लिये नौकरियों के अलावा शासन की विभिन्न विभागों की स्वरोजगार योजनाओं में भी एक सफल उद्यमी बनने के भरपूर अवसर उपलब्ध है। उच्च शिक्षा विभाग की स्वामी विवेकानन्द कैरियर मार्गदर्शन योजना के तहत शासकीय तिलक महाविद्यालय कटनी में आयोजित द्वि दिवसीय जिलास्तरीय कैरियर अवसर मेले के शुभारंभ अवसर पर कलेक्टर ने यह बात कही। इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत जगदीश चन्द्र गोमे, एसडीएम बलबीर रमन, एसीईओ गौरव पुष्प, महाप्रबंधक उद्योग अजय श्रीवास्तव, उप संचालक कृषि ए0के0 राठोर, डिप्टी कलेक्टर संघमित्रा गौतम, जिला रोजगार अधिकारी डी0के0 पासी, सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग आर0बी0 सिंह, प्राचार्य सुधीर खरे सहित महाविद्यालयीन प्राध्यापकगण उपस्थित थे। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि किसी भी महाविद्यालयीन छात्र-छात्रआों के लिये उनका कैरियर अत्यन्त महत्वूपर्ण होता है। अपनी रुचि और पैशन के हिसाब से वे अपना कैरियर चुनते हैं। जिलास्तरीय कैरियर अवसर मेले में सभी संबंधित शासकीय विभाग के स्टॉल लगाकर विभागीय योजनाओं, स्वरोजगार की योजनाओं से अवगत कराया जा रहा है। वहीं मेले में 20 बड़ी कम्पनियों को बुलाकर रोजगार के प्रत्यक्ष अवसर भी उपलब्ध कराये जा रहे हैं। कलेक्टर ने कहा कि युवा छात्र-छात्रायें प्राईवेट और शासकीय नौकरियों के अलावा शासन की स्वरोजगार योजनाओं का लाभ लेकर सफल उद्यमी बन सकते हैं और अपना कैरियर बेहतर बना सकते हैं। उन्होने कहा कि इन्टरनेट के युग में कोई भी व्यक्ति आईसोलेट नहीं है। विश्व के हर क्षेत्र की नवीनतम जानकारी आज के युवाओं के पास है। उन्होने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता के साथ छात्र जीवन में अनुशासन का बहुत महत्व है। यह अनुशासन जीवन को दिशाहीन होने और भटकने से बचाता है। सीईओ जिला पंचायत जगदीश चन्द्र गोमे ने बताया कि कैरियर अवसर मेले में प्रथम दिवस महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं का पंजीयन कर शासकीय विभागांे और अन्य रोजगार के क्षेत्र की योजनाओं, कौशल उन्नयन की जानकारी दी जा रही है। मेले के दूसरे दिन लगभग 20 कम्पनियां आकर पात्रता अनुरुप युवाओं का प्लेसमेन्ट अपनी आवश्यकता के अनुरुप करेगी। उन्होने कहा कि रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना और कैरियर कौशलिंग इस मेले का प्रमुख उद्देश्य है। महाप्रबंधक उद्योग अजय श्रीवास्तव ने कहा कि युवाओं को अपना कैरियर बनाने अपनी राह स्वयं चुनने का अवसर इस मेले के माध्यम से दिया जा रहा है। स्वरोजगार का क्षेत्र भी व्यापक है। इस क्षेत्र में भी युवा शासकीय योजनाओं का लाभ लेकर अपना बेहतर कैरियर बना सकते हैं।

महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ0 सुधीर खरे ने विवेकानन्द कैरियर मार्गदर्शन योजना की जानकारी देते हुये बताया कि विगत सत्र के कैरियर अवसर मेले में 2 हजार युवाओं ने पंजीयन कराया था, जिसमं विभिन्न कम्पनियों द्वारा 300 युवाओं को प्लेसमेन्ट दिया गया है। उन्होने बताया कि द्वि दिवसीय कैरियर अवसर मेले के प्रथम दिवस कैरियर और रोजगार के संबंध में व्याख्यान और मार्गदर्शन दिया जायेगा। दूसरे दिन विभिन्न कम्पनियों द्वारा पात्र युवाओं का प्लेसमेन्ट किया जायेगा। कैरियर मेला के अवसर पर 26 विभागों और अनुक्रमों द्वारा कैरियर मार्गदर्शन के स्टॉल लगाये गये हैं। इन स्टॉलों का कलेक्टर श्री सिंह ने निरीक्षण किया।

Share To:

Post A Comment: