जिला अस्पताल कटनी में सीबीसी और रोटी मेकर मशीन लोकार्पित

रोगियों को रक्त की विभिन्न प्रकार की जांचों के लिये इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा।

कलयुग की कलम ग्रामीण रिपोर्टर कटनी :-

कलेक्टर शशिभूषण सिंह के प्रयास से जनसहयोग के माध्यम से जिला अस्पताल को रक्त की विभिन्न प्रकार की जांच करने वाली सीबीसी मशीन और भर्ती रोगियों को गर्म ताजा भोजन समय पर उपलब्ध कराने रोटी मेकर मशीन उपलब्ध हो गई है।

कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने गुरुवार को जिला अस्पताल पहुंचकर रोटी मेकर मशीन दान करने वाले मुगालिया चैरीटेबल ट्रस्ट द्वारा महाकौशल रिफैक्ट्रीज प्रा0 लि0 के मालिक अरविन्द गुगालिया और उनके परिवारजनों की उपस्थिति में रोटी मेकर मशीन का विधिवत् लोकार्पण कराया। रोगी कल्याण समिति के सदस्य अरविन्द मुगालिया ने लगभग 2 लाख 90 हजार रुपये लागत की रोटी मेकिंग मशीन जिला अस्पताल को दान की है। इस मशीन के माध्यम से 500 रोटियां एक घंटे में सिककर तैयार होती है। मशीन आ जाने से अस्पताल की रसोई में मैनपावर की कम आवश्यकता होगी। वहीं मरीजों को समय पर गर्म और ताजा भोजन शीघ्रता पूर्वक तैयार होकर मिलेगा। फिलहाल अस्पताल में 200 बेड में भर्ती की सुविधा है। नया अस्पताल भवन बन जाने पर कुल रोगियों की भर्ती संख्या 350 के लगभग होगी। इसी प्रकार जिला अस्ताल कटनी के लिये कलेक्टर शशिभूषण सिंह के प्रयासों से जनसहयोग के माध्यम से रक्त की विभिन्न प्रकार की जांच के लिये कम्पलीट ब्लड काउन्ट मशीन (सीबीसी) मशीन भी उपलब्ध हो गई है। लगभग 2.80 लाख रुपये की लागत की यह मशीन कटनी शहर के व्यवसायी और समाजसेवी मनीष गेई द्वारा प्रदत्त की गई है। कलेक्टर श्री सिंह ने गुरुवार को जिला अस्पताल के भ्रमण के दौरान सीबीसी मशीन को भी विधिवत् लोकार्पित किया। सीबीसी मशीन की सुविधा नहीं होने पर अस्पताल आने वाले मरीज शहर में अन्य बड़े प्रतिष्ठान और दूसरे शहर में मंहगी कीमतों पर रक्त की विभिन्न जांच कराते थे। अस्पताल के भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने सामने विकसित किये जा रहे पार्क, सीटी स्केन स्थापित करने वाले कक्ष, रसोई, अस्पताल की नई बिल्डिंग के निर्माण कार्य, ब्लड बैंक और मॉड्यूलर तथा जनरल ओटी का भी निरीक्षण किया। रक्त बैंक के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री सिंह ने नियमित रक्त दाताओं और ब्लड बैंक में उपलब्ध ब्लड स्टॉक की जानकारी ली। उन्होने सिविल सर्जन को निर्देशित किया कि कोई भी जरुरतमंद रोगी ब्लड प्राप्त करने से वंचित नहीं रहे, एैसी सुविधा बनायें। सिविल सर्जन डॉ0 एस0के0 शर्मा ने बताया कि ब्लड बैंक से रक्त प्रदाय में एएनसी और गर्भवती महिलाओं के ऑपरेशन को पहली वरीयता दी जाती है। शेष ब्लड सर्जरी इत्यादि प्रक्रियाओं में रोगियों को दिया जाता है। कलेक्टर श्री सिंह ने सीटी स्कैन मशीन लगाये जाने वाले कक्ष का भी अवलोकन किया और सिविल सर्जन को ठेकेदार के माध्यम से कार्य में गति लाकर शीघ्र मशीन कक्ष में स्थापित कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने हाल में लोकार्पित मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर के साथ प्रिपरेशन कक्ष, रिकवरी कक्ष का भी अवलोकन किया। उन्होने मॉड्यूलर ओटी से संलग्न जनरल ऑपरेशन थियेटर को सोमवार से चालू करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि जिला अस्पताल में अभी तक किये जाने वाले सभी प्रकार के ऑपरेशन सोमवार से ऊपरी तल पर नवनिर्मित जनरल ओटी में किये जायें। इसके लिये पहले रविवार तक ऑपरेशन थियेटर में आवश्यक सुविधायें और उपकरण सामग्री नये ओटी में शिफ्ट कर लें। बाद में कलेक्टर श्री सिंह ने सिविल सर्जन कक्ष में चिकित्सकों की बैठक लेकर नये अस्पताल भवन के निर्माण और जिला अस्पताल में किये जा रहे चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार और निर्माण कार्यों के संबंध में जानकारी ली। इस मौके पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 एस0के0 निगम, सिविल सर्जन डॉ0 एस0के0 शर्मा, नेत्र विशेषज्ञ डॉ0 यशवंत वर्मा सहित रोगी कल्याण समिति और रेड क्रॉस सोसाईटी के सदस्य भी उपस्थित थे।



Share To:

Post A Comment: