स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत शहर का चहुंमुखी विकास किया जायेगा-मण्डलायुक्त

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
       प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

फुटपाथों को पैदल चलने वालों के लिए बाधा रहित बनायें मण्डलायुक्त

नई बनाई जाने वाली सड़कों पर टेलीफोन लाइन, पानी की लाइन, बिजली के कार्य पहले ही करा लिये जाय ताकि बाद में सड़कों पर न हो खुदाई

सड़कों को तत्काल अतिक्रमण मुक्त कराया जाए-मण्डलायुक्त, प्रयागराज

10 फरवरी, 2020 प्रयागराज।

मण्डलायुक्त डाॅ0 आशीष कुमार गोयल आज त्रिवेणी सभागार में स्मार्ट सिटी के तहत कराये जाने वाले कार्यों की गहन समीक्षा की। फेज वन में बनाई गई 08 (आठ) सड़कों का निरीक्षण कराकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश देते हुए मण्डलायुक्त ने कहा कि समस्त कार्यों का निरीक्षण आवश्यक रूप से कराया जाए।

स्मार्ट सिटी के तहत शहर में नई सड़के बनाने, नाइट मार्केट, स्मार्ट पार्किंग, ओपन एयर जिम, जल निकासी, स्मार्ट पब्लिक टाॅयलेट, पार्कों का विकास, दीवारों व चैराहों पर 3डी पेंटिंग, स्कूलों में खेल सुविधाए व डिजिटल एजूकेशन, पौध रोपित गमले, सालिड वेस्ट मैनेजमेंट, स्ट्रीट लाइट आदि कार्यों को कराकर शहर को स्मार्ट सिटी बनाने का कार्य किया जा रहा है। मण्डलायुक्त ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शहर के चहुंमुखी विकास के लिए सभी अधिकारी पूर्ण ऊर्जा के साथ कार्य करें और शहर को एक माॅडल शहर के रूप में विकसित करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। उन्होंने नई बनाई गई सड़कों में जरूल हसन रोड और एल्गिन रोड पर कार्य समाप्ति में हो रहे विलम्ब के कारण सम्बन्धित अधिकारी को फटकार लगाते हुए 02 दिन में कार्य समाप्त करने के निर्देश दिये। संबंधित अधिकारियों ने कार्य की प्रगति की जानकारी देते हुए बताया कि कमला नेहरू नाइट मार्केट का कार्य लगभग पूर्ण कराया जा चुका है तथा कुछ स्मार्ट पब्लिक टाॅयलेट का कार्य भी पूरा करा लिया गया है। इस पर मण्डलायुक्त ने इन कार्यों की इंस्पेक्शन रिपोर्ट तथा पूर्ण कराये गये ओपन एयर जिम की इंस्पेक्शन रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। मण्डलायुक्त ने कहा कि एप बनाकर उसके माध्यम से जिम यूजर्स से उनका फीडबैक लिया जाय तथा उसी अनुसार इसे अपग्रेड भी किया जाय, जिससे यूजर्स को अधिकतम सुविधाएं प्रदान की जा सके। इसके अतिरिक्त स्मार्ट पुलिसिंग के तहत बाड़ी वार्न कैमरों, कैदी वाहनों व थानों आदि में कैमरे लगवाकर पुलिस को स्मार्ट बनाने का कार्य भी जल्द कराया जाय। स्कूलों में खेल के संसाधनों को विकसित किया जाये तथा स्मार्ट डिजिटल शिक्षण कार्य कराया जाये। शहर की साफ-सफाई व रेलिंग आदि की रंगाई, पार्कों, फुटपाथों, चैराहों, दीवारों व रेलिंग आदि की रंगाई, पार्कों का सौंदर्यीकरण आदि कार्य कराकर स्मार्ट सिटी की परिकल्पना को साकार करें।

मण्डलायुक्त ने स्टैनली रोड पर हो रहे अतिक्रमण पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सड़कों को अतिक्रमण मुक्त करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की जवाबदेही तय की जायेगी। इसके अतिरिक्त उन्होंने एम जी रोड पर साइडलेन विकसित करने के भी निर्देश दिये तथा कहा कि फुटपाथों को पैदल चलने वालों के लिए सुगम बनाया जाय तथा जगह-जगह बनाई गयी बाधाओं से फुटपाथों को अवमुक्त कराया जाय। उन्होंने कहा कि जो भी नई सड़कें बनाई जानी है, उनपर अन्य विभागों जैसे बिजली, टेलीफोन, पानी आदि द्वारा कराये जाने वाले कार्यों को पहले ही करा लिया जाय, जिससे नई सड़कों के निर्माण के बाद उन पर खुदाई व कटान की समस्या का सामना न करना पड़े।

बैठक में जिलाधिकारी  भानुचंद्र गोस्वामी, प्रयागराज विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष टी0केे0 शिबु, नगर आयुक्त-रवि रंजन सहित सभी संबंधित अधिकारी उपिस्थत थे।



Share To:

Post A Comment: