अतिथि शिक्षकों के साथ लगातार सरकारों द्वारा उपेक्षा हो रही है इसको लेकर संकुल केंद्र शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पारूआ व झिन्नापिपरिया  के अतिथि शिक्षकों ने नियमितीकरण की मांग को लेकर सामूहिक हड़ताल की है

जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा जिला कटनी मध्य प्रदेश के अतिथि शिक्षकों ने एक बार फिर नियमितीकरण की आवाज उठाई है इसको लेकर सभी अतिथि विद्वानों ने एक बार फिर केंद्र सरकार के खिलाफ शंखनाद किया है लगातार हड़तालों के बाद सरकारों ने आज तक अतिथि शिक्षकों के लिए किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं की है अतिथि शिक्षकों ने अपने जीवन का बहुमूल्य समय बच्चों को पढ़ाने में लगाया है और अपना स्वयं का समय आगे की आस लिए कि कुछ निर्णय हमारे पक्ष में होंगे कांग्रेस पार्टी कमलनाथ सरकार ने अपने घोषणा पत्र में अतिथि शिक्षकों को गुरुजी की तर्ज में भर्ती करने को कहकर सरकार बना ली और अपने उस वायदे को भी पूरा नहीं किया अतिथि विद्वान निरंतर प्रदर्शन कर रहे हैं दिनांक08/03 /2020 को सामूहिक हड़ताल में रहने का आवाहन एक बार फिर अतिथि विद्वानों ने किया है शेख नबी अभिषेक चौरसिया कमलेश महोबिया सोहन चौरसिया कुलदीप अनीषा सिंह आरती प्रजापति तरुण कचेर सहित 24 अतिथि शिक्षकों ने हस्ताक्षर अभियान चलाकर संकुल केंद्र पहरवा और झिंनापिपरिया में सामूहिक अवकाश हेतु आवेदन पत्र दिया है।

लेखक

अब्दुल कादिर खान कलयुग की कलम 




Share To:

Post A Comment: