केंवची से चिरमिरी होते नागपुर तक के लम्बित नई एनएच सड़क की वित्तीय स्वीकृति हेतु सांसद महन्त करेंगी पहल

पूर्व मेयर रेड्डी ने कोरबा सांसद से मुलाकात कर एनएच के लम्बित होने की दी जानकारी।

कलयुग की कलम 

चिरमिरी। चिरमिरी शहर के स्थायित्व एवं विकास के नए द्वार खोलने में कारगर भूमिका निभाने के दिशा में एक नई आशा की किरण के रूप में अस्तित्व में आते - आते सरकारी फाइलों में कहीं खो गए केंवची से चिरमिरी होते नागपुर को जाने वाले प्रस्तावित नई राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण हेतु पूर्व महापौर के. डोमरु रेड्डी ने सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महन्त से गुहार लगाई है। चिरमिरी क्षेत्र को वर्षों बाद संजीवनी देने जैसा उम्मीद लेकर आये इस महत्वपूर्ण सड़क का सर्वे कार्य सहित जन सुनवाई पूर्ण हो चुकी केंवची से चिरमिरी नए राष्ट्रीय राज्यमार्ग के निर्माण हेतु पूर्व महापौर के. डोमरु रेड्डी ने क्षेत्रीय सांसद श्रीमती ज्योत्सना महन्त से मुलाकात कर केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय भारत सरकार से स्वीकृति दिलवाने हेतु आवश्यक चर्चा की।

पूर्व महापौर श्री रेड्डी ने अपने रायपुर प्रवास के दौरान चिरमिरी के जमीनी हालातों एवं यहाँ के समस्याओं के बारे में चर्चा करते हुए यह भी बताया कि कोयला खदानों के लगातार सिमटते चले जाने के फलस्वरूप हो रहे पलायन के कारण जनसंख्या में हो रहे कमी के कारण क्षेत्र के स्थायित्व व ठहराव के लिए आवश्यक इस एनएच सड़क निर्माण की हमें अन्यन्त आवश्यकता भी है। क्षेत्रीय कोरबा लोकसभा सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत से मुलाकात कर उन्हें अवगत कराते हुए विस्तारपूर्वक यह भी बताया कि पूर्ववर्ती सरकार ने छत्तीसगढ़ में 12 जनवरी 2016 को आठ नई राष्ट्रीय राज्यमार्ग की स्वीकृति प्रदान करने केंद्रीय मंत्री से आग्रह किया था। जिसमे सभी आठ सड़को के निर्माण की स्वीकृति केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने प्रदान की थी। इन 8 सड़कों में केंवची, पेंड्रा, पसान, जरौंधा, देवाडांड, बरदर, खड़गवां, चिरमिरी से गुजरते हुए नागपुर में एनएच 43 को जोड़ने हेतु कुल 140 किमी डबल लेन सड़क स्वीकृत हुई। जिसके पश्चात नोएडा की कम्पनी एस. ए. इंफ्रास्ट्रक्चर कंसल्टेंट प्रायवेट लिमिटेड के द्वारा सड़क निर्माण का सर्वे कार्य कंप्लीट करने के उपरान्त बकायदा राष्टीय राजमार्ग विभाग के अधिकारियों की ओर से चिरमिरी के हल्दीबाड़ी सामुदायिक भवन में विगत 09 मार्च 2018 को मनेन्द्रगढ़ विधायक और चिरमिरी महापौर के रूप में स्वयं मेरी उपस्थिति में जनसुनवाई भी किया गया था। लेकिन इसके उपरान्त कतिपय कारणों एवं राजनैतिक इच्छाशक्ति के अभाव में इसकी वित्तीय स्वीकृति न मिल पाने के कारण इस एनएच निर्माण की कार्यवाही लम्बित है।

श्री रेड्डी ने आगे बताया कि सांसद श्रीमती महंत ने इस नए एनएच की जानकारी उनके संज्ञान में आने के बाद उन्होंने कहा कि अपने क्षेत्र के लिए जो भी कार्य हो उन्हें वे प्राथमिकता के क्रम में रखती है। इस नए एनएच को लेकर जल्द ही वे केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखने सहित व्यक्तिगत तौर पर मुलाकात कर भी इसके वित्तीय स्वीकृति दिलवाने के साथ ही इस सड़क निर्माण कार्य को जल्द प्रारम्भ करवाने हेतु चर्चा करेंगी। इसके साथ ही श्रीमती महंत ने कहा कि इस सड़क के बनने से मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के बीच विशेषकर जबलपुर, मरवाही, अमरकंटक, पेंड्रा मार्ग से होकर आने - जाने में कोरिया - कोरबा जिले के लोगों को भी काफी लाभ मिलेगा, इसलिए इसकी स्वीकृति जितनी जल्द हो उसके लिए वे जरूर पहल करेंगी। साथ ही पूर्व महापौर श्री रेड्डी ने कहा कि मैं पद में रहूं या न रहूं, चिरमिरी शहर और आसपास के क्षेत्र तथा जिले के लिए जो भी बेहतर और अच्छा हो सकता है उसे करने में सदैव लगा रहा हूँ और आगे भी लगा रहूंगा।

संजीव गुप्ता संवाददाता कोरिया 

Share To:

Post A Comment: