मजबूर पैदल राहगीरों से लॉक डाउन हुआ ध्वस्त

कलयुग की कलम 

सुभाष चंद्र पटेल रिपोर्टर / प्रयागराज नैनी में मजबूर व पैदल राहगीरों के कारण कोरोना वायरस से बचाव हेतु लागू लॉक डाउन पूरी तरह ध्वस्त हो गया है।

जानकारी के अनुसार विश्व्यापी कोरोना वायरस की महामारी के राष्ट्रीय आपदा के समय पीएम मोदी के आह्वान पर कोरोना वायरस से बचाव हेतु लागू लॉक डाउन अब प्रयागराज में मजबूर पैदल राहगीरों व लोगों के घरों से बेवजह भी निकलने के कारण पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है।

बता दें कि सम्पूर्ण लॉक डाउन का मूल उद्देश्य कोरोना वायरस के चेन को तोड़ना था जोकि केवल घर मे रहने से ही सम्भव था परंतु देश के अन्य भागों की तरह प्रयागराज में भी उल्टा नजारा देखने को मिला है। यहां बेवजह लोगों को घरों से बाहर घूमते देखा जा सकता है वही मां वैष्णों देवी धाम व अन्य स्थानों से बिहार के औरंगाबाद आदि सैकड़ों किमी की पैदल यात्रा पर निकले लोगों का हुजूम भी देखने को मिला। इन पैदल राहगीरों का कहना है कि सरकारी सुविधाओं के अभाव में वे पैदल चलकर हर हाल में आने घर जाने को मजबूर हैं। प्रयागराज के नैनी आदि आदि विभिन्न स्थानों पर समाजसेवियों द्वारा इन मजबूर व परेशान लोगों के निःशुल्क भोजन की व्यवस्था की गई है वही दूसरी तरफ प्रशासन आज भी लॉक डाउन को सफल बनाने का प्रयास कर रहा है।






Share To:

Post A Comment: