रेत निकालते समय धसकी मिट्टी की धाकौन, युवक की मौत

पुलिस व अधिकारियों की माफियाओं से मिलीभगत का ग्रामीणों ने लगाया आरोप

उमरियापान के घुघरी गांव की घटना,2 साल पहले भी खदान में एक युवक की हो चुकी हैं मौत 

कलयुग की कलम (अंकित झारिया)

उमरियापान:- अवैध खदान में रेत खनन कर रहे एक युवक की मिट्टी की धाकौन धसकने से नीचे दबने पर मौत हो गई।घटना उमरियापान थाना क्षेत्र के घुघरी गांव में बेलकुण्ड नदी के किनारे मंगलवार दोपहर करीब साढ़े 12 बजे की है। घटना के बाद रेत खनन में लगे अन्य मजदूर वहां से ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर भाग निकले। हालांकि रेत खदान वापस लौटकर आ रहे एक हरे रंग के ट्रैक्टर ट्रॉली को गांव के लोगों ने रोककर खड़ा करा लिया।लेकिन पुलिस ने ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त नही किया है।घटना की जानकारी लगने पर मौके पर ग्रामीण बड़ी संख्या में इकट्ठे हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस बल, एसडीएम, नायब तहसीलदार,आरआई, पटवारी भी मौके पर पहुंचे। लेकिन जिम्मेदार खनिज विभाग का कोई भी कर्मचारी मौके पर नही पहुँचा। जेसीबी की मदद से पुलिस व प्रशासन ने युवक के शव को बाहर निकलवाया है।

थाना प्रभारी गोविंद सुरैया ने बताया कि पचपेढ़ी निवासी राजू पिता चंद्रपाल पटेल 22 वर्ष मंगलवार दोपहर में घुघरी गांव में बेलकुण्ड नदी के घाट में बनी खदान से साथियों के साथ रेत निकाल रहा था। उसी दौरान मिट्टी की धकौन ऊपर से धसककर गिर गई। कुछ युवक मौके पर भाग निकले जबकि राजू खादान में दब गया। जिसके की उसकी मौके पर मौत हो गई।जेसीबी मशीन लगवाकर नीचे दबे युवक को बाहर निकलवाया। युवक की लाश करीब 20 फिट नीचे दबी मिली।पुलिस लाश को लेकर उमरियापान अस्पताल पहुँची। पुलिस पंचनामा कार्रवाई करते हुए शव का पोस्टमार्टम करवाकर लाश परिजनों को सौंपा है।हालांकि उमरियापान पुलिस यह बताने को तैयार नही है कि युवक किसके कहने पर किसके साथ ट्रैक्टर ट्रॉली में रेत निकालने के लिए घुघरी आया था।

कई बार कर चुके हैं शिकायत:-  ग्राम पंचायत घुघरी सरपंच प्रमोद गौतम ने बताया कि बीते 2 वर्ष पहले भी इसी घाट में रेत निकालते समय मिट्टी की धाकौन धसकने से एक युवक की मौत हुई थी। फिर भी क्षेत्र के रेत माफियाओं द्वारा खुलेआम रेत की निकासी की जाती थी। सरपंच ने बताया कि वो ग्रामीणों के साथ खनिज, पुलिस और राजस्व विभाग के अधिकारियों को कई बार रेत माफियाओं द्वारा रेत का उत्खनन कर परिवहन करने की शिकायत कर कार्रवाई करने की मांग किया। लेकिन जिम्मेदार विभाग के अधिकारियों ने रेत माफियाओं के खिलाफ कोई भी कार्रवाई नही किया है। रेत माफिया घुघरी से दिनदहाड़े रेत का उत्खनन कर गहरी खाई बना दी है।सरपंच प्रमोद गौतम सहित ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस सहित जिम्मेदार विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से युवक की मौत हुई है।

इनका कहना है:- रेत निकालने के दौरान एक युवक के खदान में दबने की सूचना मिली। जेसीबी की मदद से मृत अवस्था में युवक की लाश को बाहर निकलवाया है।युवक किसके कहने और किसके साथ ट्रैक्टर ट्रॉली में रेत निकालने गया था,इसकी जानकारी नहीं है। मर्ग कायम करते हुए मामले की जांच की जा रही है।:- गोविंद सुरैया, थाना प्रभारी उमरियापान




Share To:

Post A Comment: